कैलिफोर्निया स्टेट ने चीन के साथ व्यापार युद्ध का विरोध किया

2018-09-03 11:04:01

अमेरिका के कैलिफोर्निया स्टेट की संसद ने 30 अगस्त को बहुमत से नम्बर 44 प्रस्ताव पारित किया और चीन के साथ आर्थिक संबंधों का समर्थन प्रकट किया। प्रस्ताव ने संघीय सरकार से कदम उठाकर चीन के साथ संबंधों को मजबूत करने की मांग की।

इस बिल के अनुसार कैलिफोर्निया चीन के साथ सांस्कृतिक आदान-प्रदान, व्यापार, मौसम, शिक्षा, पर्यटन, तकनीक और हरित विकास के संदर्भ में सहयोग का समर्थन करता है। कैलिफोर्निया चीन का सबसे महत्वपूर्ण सहयोगियों में से एक है। इस स्टेट में लगभग बीस लाख चीनी उत्प्रवासी रहते हैं। कैलिफोर्निया और चीन के पेइचिंग व शांगहाई जैसे बड़े शहरों के बीच प्रति दिन बीसेक आयरलैंस उड़ते रहते हैं। चीन भी अमेरिका का पांचवां पर्यटक स्रोत है और वर्ष 2016 में कुल 15 लाख चीनी पर्यटकों ने कैलिफोर्निया का दौरा किया। वर्ष 2017 में कैलिफोर्निया और चीन के बीच व्यापार रकम 1 खरब 75.6 अरब अमेरिकी डालर तक रहा। चीन सरकार भी कैलिफोर्निया के साथ सहयोग को महत्व देती है।

अमेरिकी मीडिया का मानना है कि ट्रम्प सरकार के व्यापार कदम से कैलिफोर्निया के अर्थतंत्र पर भारी नुकसान पहुंचा है। कैलिफोर्निया और प्रशांत महासागरीय क्षेत्रों के बीच बड़ी रकम वाला व्यापार चल रहा है और इस स्टेट में इलेक्ट्रॉनिक उद्योग का विकास वैदेशिक व्यापार पर निर्भर रहता है। कैलिफोर्निया में एक तिहाई आयात चीन से आता है और बड़ी इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनियां मुख्य रूप से चीनी उत्पादन पर निर्भर हैं। ट्रम्प सरकार की अधिक चुंगी वसुलने की नीतियों से इस स्टेट के नवाचार को भारी नुकसान पहुंचेगा।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी