चीनी और अफ्रीकी उद्यमियों ने औद्योगीकरण और बुनियादी ढांचे के सहयोग पर विचार किया

2018-09-05 10:33:01

चीनी और अफ्रीकी उद्यमियों ने 4 सितंबर को औद्योगीकरण और बुनियादी ढांचे के सहयोग पर विचार किया। अफ्रीकी उद्यमियों का मानना है कि चीनी उद्योग अफ्रीका में औद्योगिकीकरण के अनुरूप है। चीन-अफ्रीका विकास कोष की बोर्ड अध्यक्ष यांग पौ ह्वा ने कहा कि चीन और अफ्रीका को आधुनिक तकनीक खासकर इंटरनेट तकनीक के जरिये पारंपरिक उद्योग का उन्नयन तथा बुद्धिमान विकास साकार करना चाहिये।

बैठक में उपस्थित सूत्रों का मानना है कि चीन की पूंजी, तकनीक और साजो-सामानों को अफ्रीका के संसाधन और बाजार के साथ जोड़ा जाना चाहिये। नाइजीरिया निवेश संवर्धन परिषद की प्रधान येवांदे सादिकू ने कहा कि मानव संसाधन अफ्रीका के लगातार विकास के लिए महत्वपूर्ण आधार है। चीन-अफ्रीका सहयोग में इसका लाभ उठाया जाएगा। वर्ष 2050 तक अफ्रीकी जनसंख्या 2.5 अरब तक जा पहुंचेगी, जनसंख्या की वृद्धि से अफ्रीका में पूंजीगत एवं आबादी-केंद्रित उद्योग का विकास करने की जरूरत है।

बीते नौ सालों में चीन हमेशा अफ्रीका का प्रथम व्यापार सहपाठी रहा है। चीन-अफ्रीका व्यापार को आगे बढ़ाने से अफ्रीकी देशों के औद्योगिकीकरण और आधुनिकीकरण के अनुकूल है। चीनी आयात निर्यात बैंक की प्रमुख हू श्याओ ल्यैन ने कहा कि अफ्रीका में विनिर्माण, कृषि विकास परियोजना और कृषि उत्पादों के प्रसंस्करण में निवेश लगाने की बड़ी संभावना है। भविष्य में सेवा कारोबार और पर्यटन का विकास भी किया जाएगा।

दक्षिण अफ्रीका के ब्लैक बिजनस काउंसिल के अध्यक्ष सैंदिल मूज़िवेनकोसी ज़ूनगु ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका चीन को उच्च मूल्यवर्धित उत्पादों का निर्यात करेगा। वर्तमान में अफ्रीकी रेलवे, सड़क, विमानन, बंदरगाह, बिजली और दूरसंचार का जोरों से निर्माण किये जाने की आवश्यकता है। चीन रेलवे और मार्ग के निर्माण में अफ्रीका को वित्तीय व तकनीकी सहायता प्रदान करेगा।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी