12वें ग्रीष्मकालीन दावोस मंच में भाग लेने के लिए चीन आए चार देशों के नेताओं से मिले शी चिन फिंग

2018-09-19 11:39:01

18 सितंबर को दोपहर के बाद चीनी राष्ट्रपति शी चिन फिंग ने पेइचिंग के जन वृहद भवन में 12वें ग्रीष्मकालीन दावोस मंच में भाग लेने के लिए चीन आए एस्तोनिया के राष्ट्रपति केर्ति कलजुलाद के साथ मुलाकात की। उन्होंने कहा कि चाहे देश बड़ा या छोटा, वह अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का एक समान सदस्य है।

शी चिन फिंग के अनुसार मानव समुदाय के साझे भविष्य की स्थापना करने का प्रस्ताव पेश करने का चीन का लक्ष्य है कि विभिन्न देशों के बीच एक दूसरे का सम्मान किया जाए, एक दूसरे के साथ समान व्यवहार किया जाए, सहयोग से समान जीत पाई जाए। चीन एस्तोनिया के साथ द्विपक्षीय संबंधों का और बड़ा विकास करना चाहता है। दोनों पक्षों को आपसी राजनीतिक विश्वास आगे बढ़ना चाहिए, "एक पट्टी एक मार्ग" प्रस्ताव और एस्तोनिया की विकास रणनीति से जोड़ने में बढ़ावा देना चाहिए, व्यवहारिक सहयोग और सांस्कृतिक आदान-प्रदान को मज़बूत करना चाहिए। चीन यूरोपीय एकीकरण प्रक्रिया का समर्थन करता है, यूरोप के साथ सहयोग करके बहुपक्षवाद की रक्षा करते हुए एकतरफावाद का विरोध करता है।

कलजुलाद ने कहा कि एस्तोनिया अर्थतंत्र और व्यापार, ई-कॉमर्स, लॉजिस्टिक्स जैसे क्षेत्रों में चीन के साथ सहयोग, सांस्कृतिक मेलजोल को आगे बढ़ाना चाहता है, ताकि मध्य और पूर्वी यूरोप तथा चीन के बीच सहयोग मज़बूत किया जा सके। एस्तोनिया बहुपक्षवाद और मुक्त व्यापार का समर्थन करता है, अंतर्राष्ट्रीय मामलों में चीन की महत्वपूर्ण भूमिका की प्रशंसा करता है, चीन के साथ अंतर्राष्ट्रीय नियम और व्यवस्था की रक्षा करना चाहता है।

उस दिन शी चिनफिंग ने अलग अलग तौर पर सर्बिया के राष्ट्रपति, लातविया के राष्ट्रपति, समोआ के प्रधानमंत्री के साथ मुलाकात भी की।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी