अमेरिकाः डीपीआरके पहले नाभिकीय हथियारों को छोड़े

2018-09-21 16:09:01

अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने 20 सितंबर को कहा कि डीपीआरके के नाभिकीय सवाल पर अमेरिका इस रुख पर कायम है कि डीपीआरके को सबसे पहले नाभिकीय हथियारों को त्यागना चाहिए। अमेरिका द्वारा डीपीआरके के खिलाफ प्रतिबंध भी लगाए जाएंगे।

उसी दिन आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नोर्त ने कहा कि कोरिया प्रायद्वीप के दोनों पक्षों के नेताओं की वार्ता इस क्षेत्र में नाभिकीय हथियारों से मुक्त क्षेत्र बनाने की सही दिशा में आगे बढ़ाया गया एक कदम है। लेकिन डीपीआरके को सर्वप्रथम नाभिकीय हथियारों को त्यागना चाहिए। यदि डीपीआरके ऐसा नहीं करता है तो अन्य बातों की चर्चा दूर की बात है।

नोर्त ने कहा कि हालांकि कोरिया प्रायद्वीप के दोनों पक्षों की शिखर वार्ता के बाद हस्ताक्षरित संयुक्त घोषणा पत्र में यह पेश नहीं किया गया कि अंतर्राष्ट्रीय परमाणु एजेंसी और अमेरिकी जांचकर्ताओं को डीपीआरके द्वारा मिसाइल संबंधी संरचनाओं को त्यागने का गवाह लेना चाहिए। फिर भी अमेरिका और डीपीआरके के बीच सहमति होनी चाहिए।

उधर अमेरिकी विदेश मंत्री ने 19 सितंबर को कहा कि उन्होंने डीपीआरके के विदेश मंत्री को अगले हफ्ते न्यूयार्क में आयोजित होने वाले यूएन महासभा के दौरान वार्ता का आमंत्रण दिया है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी