चीन-म्यांमार बागान पगोडा की मरम्मत पर सहयोग

2018-09-23 15:12:00

चीन सरकार की सहायता से बगान के सबसे ऊंचे पगोडा थटबाइनयू फाया बौद्ध पगोडा के जीर्णोद्धार संबंधी समझौते पर हस्ताक्षर करने का समारोह 22 सितंबर को बगान में आयोजित हुआ। इसके प्रतीक हैं कि बगान बौद्ध पगोडा की मरम्मत में सहयोग का औपचारिक रूप से शुभारंभ हुआ है।

बगान पगोडा विश्व की महत्वपूर्ण सांस्कृतिक धरोहर है, जहां कई हजार बौद्ध पगोडा मौजूद हैं। अगस्त 2016 में भूकंप से थटबाइनयू फाया पगोडा समेत कई पगोडा क्षतिग्रस्त हुए हैं। चीन सरकार ने फौरन ही म्यांमार सरकार को पगोडा के आपात संरक्षण में 10 लाख अमेरिकी डॉलर नगद सहायता राशि दी है। मई 2017 में चीन और म्यांमार के संबंधित सरकारी विभागों ने पेइचिंग में बगान पगोडा के बचाव और संरक्षण पर मेमोरेंडम पर हस्ताक्षर किये।

इस बार संपन्न हुए समझौते के अनुसार चीनी ऐतिहासिक अवशेष विशेषज्ञ बगान में तैनात होंगे और म्यांमार के समकक्षों के साथ थटब्यनयू फाया पगोडा का संपूर्ण मरम्मत करेंगे। चीन सरकार इसमें 20 करोड़ युआन की सहायता राशि लगाएगी।

म्यांमार स्थित चीनी राजदूत होंग ल्यान में हस्ताक्षर समारोह में बताया कि बगान पगोडा की संयुक्त मरम्मत दोनों देशों की बौद्ध संस्कृति के मेलजोल में एक मील का पत्थर होगा, जो दोनों देशों के बौद्धिक रिश्ते और मित्रता को बढ़ाने में दूरगामी प्रभाव डालेगा।

म्यांमार के धार्मिक और सांस्कृतिक मंत्री आंग को ने बताया कि चीनी विशेषज्ञ बगान में बौद्ध पगोडा की चिरस्थाई मौजूदगी के लिए कोशिश करेंगे। इस बात का प्रतीक भी है कि म्यांमार और चीन की मित्रता और सहयोग चिरस्थाई रूप से बनी रहेगी।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी