भारत द्वारा भारत-पाक मंत्रीस्तरीय वार्ता रद्द होने की पाक ने की आलोचना

2018-09-23 16:40:01

हाल ही में भारत न्यूयॉर्क में आयोजित होने वाली भारत-पाक विदेश मंत्रीस्तरीय वार्ता को रद्द कर दिया है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने 22 सितंबर को सामाजिक मीडिया पर कहा कि यह व्यवहार घमंडी और नकारात्मक है। उन्हें भारत की नकारात्मक प्रतिक्रिया से बहुत निराश हुई है।

भारत और पाकिस्तान के विदेश मंत्रालयों ने 20 सितंबर को पुष्टि की कि इस महीने के अंत में न्यूयॉर्क में आयोजित होने वाली संयुक्त राष्ट्र महासभा में भाग लेने के दौरान दोनों देशों के विदेश मंत्री वार्ता का आयोजन करेंगे। लेकिन एक दिन बाद ही भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस वार्ता को रद्द करने की एकतरफा घोषणा कर दी। पाक विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा कि उन्हें भारत के एकतरफा फैसले ने “बहुत निराश” किया है। इस बयान के अनुसार आम चुनाव जीतने के बाद भारत-पाकिस्तान संबंध की चर्चा करते हुए पाक प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि अगर भारत पाकिस्तान की ओर एक कदम बढ़ाए, तो पाकिस्तान भारत की ओर दो कदम बढ़ाएगा। इसीलिये इमरान खान ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रस्तावित “रचनात्मक संपर्क” अपील का सक्रिय जवाब दिया। इमरान खान ने न्यूयॉर्क में भारत-पाक विदेश मंत्रीस्तरीय वार्ता का आयोजन करने और द्विपक्षीय संबंधों, दक्षिण एशिया संबंधी मुद्दों के समाधान पर चर्चा करने का प्रस्ताव पेश किया। इस वार्ता को रद्द करने की भारत की एकतरफा घोषणा के कारण एक बार फिर द्विपक्षीय संबंधों में सुधार, क्षेत्रीय शांति पर बुरा असर पड़ेगा।

भारत-पाक विदेश मंत्रीस्तरीय वार्ता को रद्द करने की घोषणा करते हुए भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तानी पक्ष ने जम्मू-कश्मीर क्षेत्र में 3 भारतीय पुलिस कर्मियों की हत्या की। इसके अलावा उन्होंने कश्मीरी शस्त्रधारियों के चरित्र-चित्रण प्रिंट करने वाले डाक टिकट जारी किये। कुछ चिंतित घटनाएं घटित होने की वजह से भारत-पाक विदेश मंत्रीस्तरीय वार्ता व्यर्थ बनी है।

इस बात का जवाब देते समय पाक विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि भारत द्वारा प्रस्तावित यह कारण अविश्वसनीय है। 25 जुलाई को यानी पाकिस्तान में आम चुनाव के पहले इन डाक टिकटों को जारी किया गया। भारतीय पुलिस कर्मचारियों की हत्या की घटना का पाकिस्तान से कोई संबंध नहीं है। इसके अलावा भारत के दोनों पक्षों के बीच वार्ता को स्वीकार करने के 2 दिन पहले ये घटना हुई।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी