चीन-मालदीव सहयोग पर चंद लोगों के कहने से कालिख नहीं लगाई जा सकती

2018-09-26 19:12:00

26 सितंबर को चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता कंग श्वांग ने पेइचिंग में बताया कि चीन-मालदीव सहयोग पर चंद लोगों के कहने से चीन-मालदीव संबंधों पर कालिख नहीं लगाई जा सकती। दोनों पक्षों के बीच सहयोग समानता ,स्वेच्छा ,पारस्परिक लाभ और साझी जीत के आधार पर बना है और बाज़ार के नियम और कानून का सख्ती से पालन करता है।

रिपोर्ट के अनुसार मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नाशीद ने हाल ही में भारतीय मीडिया के साथ एक बातचीत में कहा कि चीन और मालदीव के बीच कोई भी परियोजना वाणिज्यिक दृष्टि से नहीं चल सकती और असंभव परियोजना विकासशील देश पर मजबूरन नहीं थोपी जानी चाहिए। उनका दावा है कि मालदीव बुनियादी संस्थापन परियोजना की ऑडिटिंग करेगा।

संबंधित प्रश्न के उत्तर में कंग श्वांग ने बताया कि चीन–मालदीव सहयोग चल सकेगा या नहीं और दोनों देशों के लिए कल्याण लाएगा या नहीं, बोलने का अंतिम अधिकार दोनों देशों की जनता के पास है। मैं चंद व्यक्तियों द्वारा अक्सर ऐसी गैर जिम्मेदाराना बात करने पर गहरा खेद व्यक्त करता हूं। अगर कोई शक्ति राजनीतिक इरादे से चीन के हितों को नुकसान पहुंचाती है तो चीन इसका डटकर विरोध करेगा और चीनी उद्यमों के कानूनी हितों की सुरक्षा करेगा।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी