डीपीआरके की मीडिया ने अमेरिका की आलोचना की

2018-10-01 17:08:00

डेमोक्रेटिक पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ कोरिया यानी डीपीआरके की मीडियॉ "रॉडोंग सिमुन" ने 30 सितंबर को एक हस्ताक्षरित टिप्पणी प्रकाशित की, जिसमें अमेरिका के डीपीआरके से बातचीत करने के साथ डीपीआरके पर लगाई प्रतिबंध को कम न करने की आलोचना की गई और इसे "आत्म-विरोधाभासी" कहा गया है।

इस लेख में कहा गया है कि अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पेओ ने 14 सितंबर को कहा था कि "कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु मुक्त करने की कुंजी कदम डीपीआरके पर प्रतिबंध लगाना है। और जोर देकर कहा कि अमेरिका संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंध संकल्प को लागू करना जारी रखेगा। सिंगापुर के डीपीआरके-अमेरिका संयुक्त वक्तव्य में दोनों पक्षों ने दोनों देशों के लोगों की उम्मीदों से मेल खाने के लिए नये द्विपक्षीय संबंध स्थापित करने का वचन दिया। अमेरिका ने एक तरफ़ प्रतिबंध को और कड़ा किया, दूसरी तरफ़ वार्ता करने की मांग की। ऐसा करना आत्म-विरोधाभासी है।

इस लेख में कहा गया है कि यदि एक नया डीपीआरके-अमेरिका संबंध स्थापित करना चाहता है, तो विश्वास को प्रथम स्थान पर रखा जाना चाहिए। अमेरिका को यह समझना चाहिए कि प्रतिबंध डीपीआरके के लिए काम नहीं करेगा।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी