"वन बेल्ट वन रोड " पहल वैश्विक प्रबंधन मॉडल के लिए नया मंच है

2018-10-03 17:14:01

चीन ने 2013 में "वन बेल्ट वन रोड " पहल पेश की है। हाल ही में कई अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रभारी और कई देशों के राजनेताओं और विद्वानों ने कहा है कि "वन बेल्ट वन रोड" पहल विकास के लिए सभी देशों की आम उम्मीदों से मेल खाती है। पिछले पांच वर्षों में यह पहले वैश्विक प्रबंधन मॉडल के लिए एक नया मंच बना है।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि " वन बेल्ट वन रोड " पहल के तहत न केवल आर्थिक सहयोग मज़बूत हुआ है, बल्कि आर्थिक सहयोग के माध्यम से विश्व आर्थिक विकास मॉडल में भी सुधार हुआ है, जिससे वैश्वीकरण अधिक स्वस्थ होगा और राष्ट्रीय प्रबंधन और वैश्विक प्रबंधन को बढ़ावा मिलेगा।

72वीं संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष मिरोस्लाव लाज़काक ने कहा कि " वन बेल्ट वन रोड " पहल बहुपक्षवाद की भावना और मूल्य से मेल खाती है।

चीन संबंधित मुद्दों पर स्पेनिश विशेषज्ञ ज़ुलियो रियोस ने बताया कि " वन बेल्ट वन रोड " पहल सिर्फ पांच वर्षों में वैश्विक एजेंडे का हिस्सा बन गया है, जिसने व्यापक ध्यान आकर्षित किया है और इसका प्रभाव व्यापार और आर्थिक क्षेत्रों से काफी अधिक है, जो विस्तार से बढ़कर पर्यावरण, संस्कृति और समाज तक भी फैला है। यह पहल एक पूर्ण व्यापक योजना बन गई है।

ब्रिटेन के कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के राजनीति और अंतर्राष्ट्रीय संबंध स्कूल के वरिष्ठ शोधकर्ता मार्टिन जैक्स ने कहा कि " वन बेल्ट वन रोड " पहल और इसकी संबंधित परियोजनाएं चीन द्वारा बनाए नए अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के निर्माण का शक्तिशाली उदाहरण है। चीन अपने अद्वितीय तरीके से बहुपक्षीय क्षेत्र में वैश्वीकरण और वैश्विक प्रबंधन जैसे मुद्दों पर अंतर्राष्ट्रीय प्रयास को बढ़ावा दे रहा है।

चीन संबंधित मुद्दों पर ब्राज़ील के अध्ययन संस्थान के निदेशक रोनी लिन्स ने कहा कि " वन बेल्ट वन रोड " के माध्यम से सभी देश आर्थिक विकास के परिणामों का साझा कर सकते हैं। यह पहल विकासशील देशों के लिए एक स्वर्णिम विकास का अवसर है। चीन द्वारा पेश पहल ज्यादातर देशों के आम हितों से मेल खाती है, जिससे चीन की अंतर्राष्ट्रीय जिम्मेदारी भी जाहिर की गई है।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी