ली खछ्यांग एशिया व यूरोप के तीनों देशों की यात्रा करेंगे

2018-10-10 13:13:00

ताजिकिस्तान, नीदरलैंड, बेल्जियम व यूरोपीय संघ के नेताओं के निमंत्रण पर चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग 11 से 19 अक्तूबर तक एशिया व यूरोप के तीन देशों की यात्रा करेंगे। साथ ही वे दुशांबे में आयोजित शांगहाई सहयोग संगठन के प्रधानमंत्री सम्मेलन और ब्रसेल्स में आयोजित एशिया-यूरोप शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। 9 अक्तूबर को चीनी विदेश मंत्रालय ने न्यूज़ ब्रीफिंग आयोजित कर इस यात्रा से संबंधित प्रबंध व उद्देश्य का परिचय दिया। विदेश मंत्रालय के अनुसार इस यात्रा में ली खछ्यांग संबंधित पक्षों के साथ बहुपक्षीयवाद व मुक्त व्यापार की रक्षा आदि पर चर्चा करेंगे।

ताजिकिस्तान चीन के उत्तर-पश्चिम में स्थित पड़ोसी देशों में से एक है। जो प्रधानमंत्री ली खछ्यांग की इस यात्रा का पहला पड़ाव है। 11 से 14 अक्तूबर तक ली खछ्यांग इस देश की राजधानी दुशांबे में आयोजित शांगहाई सहयोग संगठन के 17वें प्रधानमंत्री सम्मेलन में भाग लेंगे, और ताजिकिस्तान की औपचारिक यात्रा करेंगे। इस दौरान वे ताजिकिस्तान के नेताओं के साथ नयी स्थिति में द्विपक्षीय संबंधों के विकास, सहयोग करके एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण, और महत्वपूर्ण अंतर्राष्ट्रीय व क्षेत्रीय मामलों पर गहन रूप से विचार-विमर्श करेंगे।

इस वर्ष में फ़्रांस, ब्रिटेन व जर्मनी आदि यूरोपीय देशों के नेताओं ने क्रमशः चीन की यात्रा की। साथ ही चीन-यूरोप नेताओं की भेंट भी जुलाई में सफलता से आयोजित हुई। इस बार ली खछ्यांग नीदरलैंड व बेल्जियम की यात्रा करेंगे, और एशिया-यूरोप शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। जो इस वर्ष के उतरार्द्ध में चीन व यूरोप के बीच और एक महत्वपूर्ण उच्च स्तरीय आदान-प्रदान है।

गौरतलब है कि एशिया-यूरोप शिखर सम्मेलन दोनों के बीच सहयोग का एक महत्वपूर्ण मंच है। वह दोनों पक्षों के साझेदार संबंधों को गहन करने का एक महत्वपूर्ण लिंक भी है। 12वां एशिया-यूरोप शिखर सम्मेलन 18 से 19 अक्तूबर तक ब्रसेल्स में आयोजित होगा। इस बार सम्मेलन का मुद्दा है यूरोप व एशिया:वैश्विक साझेदार वैश्विक चुनौतियों का मुकाबला करें।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी