8वाँ पेइचिंग श्यांगशान फोरम आयोजित

2018-10-25 11:34:01

चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय समिति के राजनीतिक ब्यूरो की स्थायी समिति के सदस्य और नेशनल पीपुल्स कांग्रेस की स्थायी समिति के अध्यक्ष ली जैनशू ने 24 अक्तूबर की रात 8वें पेइचिंग श्यांगशान फोरम के स्वागत रात्रिभोज में भाग लिया और एक भाषण दिया।

ली जैनशू ने कहा कि पेइचिंग श्यांगशान फोरम का उद्देश्य विश्वास बढ़ाना, संदेह दूर करना, सर्वसम्मति बनाना और सहयोग का विस्तार करना है। इसकी स्थापना के बाद से यह धीरे-धीरे एशिया-प्रशांत क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण उच्च स्तरीय रक्षा और सुरक्षा वार्ता मंच के रूप में बन चुका है।

ली जैनशू ने कहा कि चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा कि "दुनिया की समृद्धि और स्थिरता चीन के लिए एक अवसर है, और चीन का विकास भी दुनिया का अवसर है।" चीन ने 40 वर्षों के सुधार और खुलने में ऐतिहासिक उपलब्धियाँ और ऐतिहासिक परिवर्तन प्राप्त किया है, जो चीनी लोगों की महत्वाकांक्षाओं और मजबूती का नतीजा है। सुधार और खुलेपन के लिए चीन का रास्ता चीन और बाहरी दुनिया के बीच उभय-जीत का रास्ता भी है।

ली जैनशू ने कहा कि आज के "वैश्विक गांव" युग में कोई भी देश मानवता के सामने आने वाली चुनौतियों से अकेले नहीं लड़ सकता। कोई भी देश एक आत्मनिर्भर द्वीप पर वापस नहीं आ सकता। चीन लगातार सहयोग और उभय जीत, बहुपक्षवाद और गैर-संरेखण का बैनर उठा रहा है। चीन अपने देश को मजबूत करने के लिए कभी भी हेगेमोनी के रास्ते पर नहीं चलेगा। चीन बराबर बातचीत और परामर्श के माध्यम से नियमों और सर्वसम्मति के अनुसार अंतरराष्ट्रीय मुद्दों के उचित निपटारे का समर्थन करता है। "वन बेल्ट वन रोड" एक लोकप्रिय अंतरराष्ट्रीय सहयोग मंच बन गया है और बड़ी संख्या में परियोजनाओं का कार्यान्वयन चल रहा है। "वन बेल्ट वन रोड" से संबंधित देशों के लोगों को इससे लाभ प्राप्त हुआ है।

इसके साथ ली जैनशू ने वर्तमान चीन-अमेरिका संबंध, ताइवान मुद्दा, कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु मुद्दा और दक्षिण चीन सागर मुद्दा आदि पर भी चीन का रुख स्पष्ट किया।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी