ली खछ्यांग और शिंजो अबे के बीच वार्ता

2018-10-26 17:02:01

चीनी प्रधान मंत्री ली खछ्यांग ने 26 अक्तूबर को पेइचिंग के जन वृहद भवन में चीन की यात्रा पर आए जापानी प्रधान मंत्री शिंजो अबे के लिये स्वागत समारोह का आयोजन किया और उनके साथ वार्ता की।

7 वर्षों में यह किसी जापानी प्रधान मंत्री की पहली चीन यात्रा है। दोनों पक्षों ने वार्ता में व्यापक सहमतियां बनाईं। दोनों पक्षों का समान विचार है कि चीन-जापान संबंधों के दीर्घकालिक ,स्थिर और स्वस्थ विकास की रक्षा करना दोनों देशों के समान हित में है और क्षेत्रीय और वैश्विक लाभ के अनुकूल भी है। दोनों पक्षों को विश्वास है कि अगर समग्र स्थिति को देखा जाए, तो द्विपक्षीय संबंधों का सुन्दर भविष्य बनाया जा सकेगा।

वार्ता के बाद हुई संयुक्त प्रेस वार्ता में ली खछ्यांग ने शिंजो अबे के साथ वार्ता की स्थिति का परिचय दिया और कहा कि दोनों पक्षों ने समान चिंता वाले मामलों, चीन-जापान सहयोग, क्षेत्रीय और क्षेत्रीय मामलों पर गहन रूप से विचारों का आदान-प्रदान किया और व्यापक सहमति बनाई।

ली खछ्यांग के अनुसार दोनों पक्षों ने इस बात की पुष्टि की कि चीन और जापान के बीच 4 राजनीतिक दस्तावेजों के विभिन्न सिद्धांतों का पालन करते हुए इतिहास और थाईवान के मामलों का समुचित निपटारा कर द्विपक्षीय संबंधों के राजनीतिक आधार की सुरक्षा की जाएगी। शांतिपूर्ण विकास की राजनीतिक सहमति से रचनात्मक रूप से मतभेद और विरोधाभासों को नियंत्रित किया जाएगा ताकि द्विपक्षीय संबंधों के स्थिर और स्वस्थ विकास को बढ़ावा मिले।

शिंजो अबे ने कहा कि प्रतिस्पर्द्धा से समंव्य की ओर मुड़कर जापान-चीन संबंध नये चरण में प्रवेश कर रहे हैं ।मैं प्रधान मंत्री ली खछ्यांग के साथ दोनों देशों के संबंधों को जोरशोर से आगे बढ़ाने को तैयार हूं ।तीसरे पक्ष के बाजार में चीन जापान सहयोग बढ़ाने के लिए हम ने नयी व्यवस्था स्थापित की है ।

वार्ता के बाद ली खछ्यांग और शिंजो अबे ने दोनों पक्षों के सरकारी विभागों के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर करने के समारोह में भाग लिया।(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी