संसद अस्थायी रूप से बंद रहेगी – श्रीलंकाई राष्ट्रपति

2018-10-28 16:34:01

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने 27 अक्तूबर को एक बुलेटिन पर हस्ताक्षर करके घोषणा की कि संसद अस्थायी रूप से 16 नवंबर तक बंद रहेगी।

एक दिन पहले सिरिसेना के नेतृत्व में संयुक्त पीपुल्स फ्रीडम एलायंस ने रानिल विक्रमसिंघे के नेतृत्व में यूनाइटेड नेशनल पार्टी के साथ गठित गठबंधन सरकार से निकलने की घोषणा की। इसके बाद सिरिसेना ने विक्रमसिंघे को प्रधानमंत्री पद से हटा दिया और पूर्व राष्ट्रपति महिंद्रा राजपक्षे को नए प्रधानमंत्री के रूप में बनाने की घोषण की।

यह जानकारी मिलने के बाद विक्रमसिंघे ने 26 अक्तूबर की रात कहा कि वे प्रधानमंत्री के पद से इस्तीफा नहीं देंगे। प्रधानमंत्री के परिवर्तन को संसदीय वोट पारित करना होगा। अब संसद में यूनाइटेड नेशनल पार्टी बहुमत में है। 27 अक्तूबर को विक्रमसिंघे ने संसद के अध्यक्ष कारू जयसूर्या से संसद की बैठक जल्द बुलाने की अपील की, ताकि संसद में अपने को बहुमत के समर्थन को साबित किया जाए।

विश्लेषकों का कहना है कि संसद के अस्थायी बंद होने से विक्रमसिंघे संसद में अपने बहुमत होने की तत्काल पुष्टि नहीं कर सकते। संसद के बंद होने के दौरान उनके समर्थक सदस्यों की अपना रुख बदलकर राजपक्षे का समर्थन करने की संभावना भी है।

राजपक्षे के नेतृत्व में पीपुल्स फ्रंट ने 27 अक्तूबर को भी कहा कि राजपक्षे को संसद में बहुमत का समर्थन मिला है। इसकी पुष्टि 16 नवंबर को संसद के बहाल होने के बाद की जा सकेगी।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी