इमरान खान की यात्रा से चीन-पाक आर्थिक गलियारे के सहयोग को मजूबत होगा - पाक विद्वान

2018-11-02 15:12:00

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अपनी चीन यात्रा के लिए 1 नवम्बर को रवाना हो गये। पाकिस्तान के विद्वान मोआज़ अवान ने सीआरआई संवाददाता को इंटरव्यू देते हुए कहा कि यात्रा के दौरान इमरान खान चीन में गरीबी उन्मूलन और भ्रष्टाचार विरोध के अनुभव सीखेंगे और साथ ही चीन के साथ एक पट्टी एक मार्ग तथा चीन-पाक आर्थिक गलियारे के सहयोग पर विचार विमर्श करेंगे।

चीन के थ्येनचिन विश्वविद्यालय में अध्ययन कर रहे मोआज़ अवान ने कहा कि इमरान खान की यात्रा महत्वपूर्ण है। उनकी यात्रा से विश्व को चीन और पाकिस्तान के बीच मजबूत संबंध सिद्ध होगा और वे चीन के भ्रष्टाचार विरोध, गरीबी उन्मूलन तथा औद्योगीकरण के अनुभवों को महत्व देते हैं। इमरान खान को ब्रिटेन में पढ़ाई करने की पृष्ठिभूमि मौजूद है। इसलिए कुछ पश्चिमी देशों ने इस का लाभ उठाकर चीन और पाकिस्तान के बीच संबंधों को तोड़ने की कोशिश की है। लेकिन यह नहीं भुल सकता है कि इमरान खान को पाकिस्तानी हितों का प्रतिनिधित्व करना पड़ेगा और उन की यात्रा से उक्त अफवाहों को भंग किया जाएगा।

अवान ने कहा कि चीन के साथ सहयोग करने से पाकिस्तान में पावर के अभाव को हल किया गया है और राजमार्ग की स्थिति में भी सुधार आया है। भविष्य में पाकिस्तानियों को आशा है कि चीन का औद्योगीकरण अपने देश में पहुंचाया जाएगा। और चीन-पाक आर्थिक गलियारे के अलावा एक पट्टी एक मार्ग के निर्माण से दोनों देशों की उभय जीत साकार हो सकेगी।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी