मध्य रेंज निर्देशित मिसाइल संधि के बहुध्रुवीकरण का विरोध करता है चीन

2018-11-05 16:43:00

मध्य रेंज निर्देशित मिसाइल संधि के बहुध्रुवीकरण का विरोध करता है चीन

चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ह्वा छ्वनयिंग ने 5 नवम्बर को एक नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मध्य रेंज निर्देशित मिसाइल संधि अमेरिका और सोवियत संघ के बीच संपन्न द्विपक्षीय संधि है। चीन अमेरिका द्वारा एक तरफा तौर पर इस संधि से हटने का विरोध करता है और इस संधि के बहुध्रुवीकरण का विरोध भी करता है। रिपोर्ट है कि अमेरिका द्वारा हाल में घोषित एक तरफातौर पर इस संधि से हटने की चर्चा में ह्वा छ्वनयिंग ने उपरोक्त बात कही।

उन्होंने कहा कि चीन अनेक बार अपना रुख प्रकट कर चुका है। यह संधि अमेरिका और सोवियत संघ के बीच संपन्न संधि है, जो एक द्विपक्षीय संधि है। इस संधि ने अंतर्राष्ट्रीय संबंधों में शैथिल्य लाने, न्यूक्लियर निःशस्त्रीकरण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने, यहां तक वैश्विक सामरिक संतुलन और स्थिरता में अहम भूमिका अदा की है। इस संधि का आज भी अहम महत्वपूर्ण अर्थ है। एक तरफा तौर पर इस संधि से हटने से बुरा असर पड़ेगा। ह्वा छ्वनयिंग ने कहा कि चीन रक्षात्मक नीति लागू करता है और सैन्य शक्ति का विकास करने में संयमित रवैया अपनाता है। साथ ही चीन किसी भी अन्य देशों के लिए धमकी भी नहीं है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी