राष्ट्रपति शी चिनफिंग की विदेश यात्राओं का परिचय:वांग यी

2018-12-06 11:31:00

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 27 नवम्बर से 5 दिसंबर तक स्पेन, अर्जेंटीना, पानामा, पुर्तगाल की यात्राएं की और अर्जेंटीना में आयोजित जी 20 शिखर सम्मेलन में भाग लिया। यात्रा की समाप्ति पर चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने प्रेस को इस यात्रा के परीणाम का परिचय दिया।

वांग यी के अनुसार राष्ट्रपति शी की यात्राओं और खासकर जी 20 शिखर सम्मेलन में की भागीदारी ने विश्व शासन की दिशा बनाये रखने और बड़े देशों के बीच संबंधों को सुस्थिर बनाने की भूमिका अदा की है। राष्ट्रपति शी ने जी 20 शिखर सम्मेलन में विश्व के प्रमुख देशों के बीच सहयोग को बढ़ावा दिया है। वर्तमान में आर्थिक वैश्विकरण के सामने चुनौतियां उभरती रही हैं। राष्ट्रपति शी ने जी 20 के सभी नेताओं से बहुपक्षवाद का डटकर समर्थन करने की अपील की। उन्होंने विश्व के आर्थिक शासन के संदर्भ में ये प्रस्तुत किया यानी कि रुपांतर व खुलेपन, सहपाठी की भावना, तकनीकी नवाचार और सामान्य लाभ एवं उभय जीत पर डटा रहना चाहिये। राष्ट्रपति शी ने जी 20 शिखर सम्मेलन के दौरान बड़े देशों के बीच संबंधों के सुधार पर भरपूर कोशिश की। उन का मानना है कि बड़े देशों के बीच आपसी विश्वास जी 20 की सबसे मूल्यवान संपत्ति है। राष्ट्रपति शी ने दूसरे पक्षों के नेताओं के साथ अनेक वार्ताएं की और सदस्यों के बीच सहयोग को बढ़ाने का प्रयास किया। चीन और अमेरिका के राष्ट्रपतियों के बीच वार्ता पर विश्व का ध्यान आकर्षित हुआ। दोनों नेताओं ने चीन और अमेरिका के बीच मौजूद समस्याओं को दूर करने की दिशा तय की है और ठोस रूपरेखा भी तैयार की है। दोनों ने आर्थिक व व्यापारिक सवालों पर सकारात्मक और रचनात्मक तौर पर बातचीत की और सैद्धांतिक तौर पर सहमतियां संपन्न कीं।

उधर राष्ट्रपति शी ने रूसी राष्ट्रपति पुतिन, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रोन, तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगन, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे, जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल और सऊदी अरब के युवराज मुहम्मद आदि नेताओं से भी वार्ताएं कीं। इनके अलावा चीनी राष्ट्रपति ने ब्रिक्स देशों की वार्ता और चीन-रूस-भारत तीनों देशों की समिट आदि में भी भाग लिया और दूसरे पक्षों के साथ बहुपक्षीय सहयोग में सुधार करने, नव उभरती शक्तियों के बीच एकता को मजबूत करने और विश्व की स्थिरता को बढ़ावा देने के सवालों पर सहमतियां संपन्न कीं। जी 20 शिखर सम्मेलन में महत्वपूर्ण सवालों पर सहमति संपन्न हो पायी है और नेताओं का एक घोषणा पत्र जारी हुआ जिससे सारी दुनिया को सही और सकारात्मक संकेत भेजा गया है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी