चीन की कार्बन उत्सर्जन बाजार विकासशील देशों के लिए एक मॉडल है : अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी के निदेशक

2018-12-11 16:30:00

अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी के निदेशक फ़ातिह बिरोल ने 10 दिसंबर को कहा कि चीन की कार्बन उत्सर्जन व्यापार बाजार पूरा होने के बाद दुनिया का सबसे बड़ा कार्बन बाजार बन जाएगा, जो दुनिया भर के अन्य विकासशील देशों के लिए एक उदाहरण स्थापित करेगा और उनकी कार्बन बाजार बनाने के लिए प्रेरणा प्रदान करेगा।

उसी दिन केटोवाइस जलवायु परिवर्तन सम्मेलन के "चीन कॉर्नर" कार्बन बाजार की बैठक में भाग लेकर बिरोल ने भाषण दिया कि चीन ने ऊर्जा संरक्षण, उत्सर्जन में कमी और जलवायु परिवर्तन से निपटने में उल्लेखनीय उपलब्धियां की हैं, और दुनिया में बहुत योगदान दिया है। पिछले साल, दुनिया भर अक्षय ऊर्जा विद्युत उत्पादन की स्थापना क्षमता का लगभग आधा चीन में था। इसके अलावा, पिछले साल चीन में दुनिया के इलेक्ट्रिक वाहनों का आधा हिस्सा उत्पादित किया गया था, और चीन दुनिया भर में इलेक्ट्रिक बसों को बढ़ावा देने के लिए भी कोशिश कर रहा है।

जलवायु परिवर्तन मामलों के लिए चीनी प्रतिनिधि ने भाषण दिया कि जलवायु परिवर्तन सभी मानव का सामना एक गंभीर चुनौती है। सक्रिय रूप से जलवायु परिवर्तन से निपटना और हरे व निम्न कार्बन विकास को बढ़ावा देना वैश्विक सर्वसम्मति और सामान्य प्रवृत्ति बन गया है। कार्बन उत्सर्जन व्यापार एक बाजार तंत्र के रूप में प्रभावी रूप से उत्सर्जन में कमी लाने की लागत को कम कर सकता है और ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को नियंत्रित कर सकता है।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी