अपदस्थ प्रधानमंत्री रानिल विक्रमेसिंघे ने जीता विश्वास मत

2018-12-13 11:01:00

श्रीलंका के अपदस्थ प्रधानमंत्री रानिल बिक्रमसिंघे ने 12 दिसंबर को संसद में विश्वास मत हासिल कर लिया। श्रीलंकाई मीडिया के अनुसार अधिकतर संसद सदस्यों ने रानिल विक्रमेसिंघे का समर्थन किया।

श्रीलंका की संसद में कुल 225 सदस्य हैं। विश्वास मत के दौरान कुल 117 सदस्यों ने रानिल विक्रमेसिंघे के पक्ष में वोट दिया। हालांकि महिंदा राजपक्षे और उनके समर्थक सदस्यों ने विश्वास मत में हिस्सा नहीं लिया।

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रिपला सिरीसेना ने 26 अक्तूबर को रानिल विक्रमसिंघे को प्रधानमंत्री पद से बर्खास्त कर दिया। इसके साथ ही पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे को नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया। इस घटनाक्रम के बाद से ही श्रीलंका में राजनीतिक स्थिति अस्थिर है। रानिल विक्रमेसिंघे ने कहा कि वे प्रधानमंत्री का पद नहीं छोड़ेंगे, सिर्फ संसद में वोट के जरिए ही प्रधानमंत्री को बदला जा सकता है।

श्रीलंकाई कानून के अनुसार, राष्ट्रपति द्वारा नियुक्त प्रधानमंत्री को आधे से अधिक संसद सदस्यों के समर्थन की जरूरत होती है।

(मीरा)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी