चीन-कतर रणनीतिक वार्ता प्रणाली की पहली बैठक आयोजित

2018-12-13 11:31:00

चीनी स्टेट काउंसलर एवं विदेश मंत्री वांग यी ने 12 दिसम्बर को पेइचिंग में कतर के उप प्रधानमंत्री एवं विदेश मंत्री मोहम्मद बिन अब्दुरहमान अल थानी के साथ चीन और कतर की सरकारों के बीच रणनीतिक वार्तालाप प्रणाली की पहली बैठक की अध्यक्षता की।

बैठक में वांग यी ने कहा कि इस साल चीन और कतर के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना की 30वीं वर्षगांठ है। दोनों देशों द्वारा इस वार्ता प्रणाली को शुरू कर पहली बैठक बुलाने का अहम अर्थ है। चीन कतर के साथ उच्च स्तरीय आवाजाही को मजबूत करना चाहता है। साथ ही राजनयिक आपसी विश्वास को प्रगाढ़ करते हुए द्विपक्षीय अहम क्षेत्रों की इवेंटों का अच्छी तरह कार्यान्वयन करना चाहता है। वांग यी ने कहा कि दोनों देश एक पट्टी एक मार्ग के सहनिर्माण के अवसर पर विकास रणनीति को जोड़ेंगे और ऊर्जा, उच्च व नवीन तकनीक, पूंजी निवेश और वित्त आदि क्षेत्रों में आपसी लाभ व साझी जीत वाले सहयोग करेंगे। चीन कतर के साथ अंतर्राष्ट्रीय व क्षेत्रीय मामलों में संपर्क व समन्वय को मजबूत करना चाहता है।

वार्ता में मोहम्मद ने कहा कि कतर चीन के साथ संबंधों को मजबूत करने में लगा रहता है और चीन द्वारा प्रभुसत्ता और प्रादेशिक अखंडता की रक्षा करने का समर्थन करता है।

जबकि वांग यी ने शिनच्यांग उइगुर स्वायत प्रदेश में आतंकवादियों और उग्रवादियों पर प्रहार करने में चीन सरकार द्वारा उठाये गये कदमों और प्राप्त सक्रिय उपलब्धियों का परिचय दिया। मोहम्मद ने कहा कि आतंकवादी मानव जाति की समान धमकी हैं। कतर चीन द्वारा देश की सुरक्षा व स्थिरता की रक्षा करने और आतंकवादी व उग्रवादी विचारधारा को रोकने के लिए उठाए गए कदमों का समर्थन करता है और चीन के साथ इस क्षेत्र के सहयोग को मजबूत करना चाहता है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी