पेरिस समझौते के तहत कार्यान्वयन नियमों की वार्ता की जानी चाहिए - चीन

2018-12-14 16:00:00

स्थानीय समय के अनुसार 13 दिसंबर को संयुक्त राष्ट्र केटोवाइस जलवायु सम्मेलन के पेरिस समझौते के कार्यान्वयन नियमों पर वार्ता अंतिम चरण में हो चुकी है। चीन के जलवायु परिवर्तन के लिए विशेष प्रतिनिधि श्ये चेंग हुआ ने उसी दिन चीनी और विदेशी पत्रकारों के सवालों का जवाब दिया।

श्ये चेंग हुआ ने कहा कि बहुपक्षवाद का समर्थन करना और कार्यान्वयन नियमों की वार्ता को पूरा करना सभी पक्षों की आम इच्छा है। चीन बहुपक्षवाद और पेरिस समझौते का समर्थन करने वाले अन्य देशों के साथ सहयोग को मजबूत करके इस प्रक्रिया को बढ़ावा देगा। अब सभी पक्ष पारदर्शिता पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। इस मुद्दे के समाधान के लिए पेरिस समझौते की सिद्धांत भावना और विभिन्न प्रावधानों को पूरी तरह से समझना और कार्यान्वित करना चाहिए।

चीन के जलवायु परिवर्तन से निपटने में दिए योगदान को लेकर उन्होंने कहा कि आर्थिक विकास और जीवन स्तर के सुधार के साथ चीन में ऊर्जा की मांग अभी भी बहुत बड़ी है। लेकिन अब चीन में बढ़ी ऊर्जा मुख्य रूप से प्राकृतिक और सतत ऊर्जा पर आधारित है। अमेरिका के पेरिस समझौते से निकलने को लेकर उन्होंने कहा कि अमेरिका कई सहयोगी क्षेत्रों में एक महत्वपूर्ण देश और सदस्य है। उम्मीद है कि अमेरिका जल्द से जल्द जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र में लौटकर अपनी नेतृत्व भूमिका निभाएगा।

श्ये चेंग हुआ ने जोर दिया कि हरित और निम्न कार्बन विश्व विकास की प्रवृत्ति है। सभी देशों को सतत विकास के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए इस प्रवृत्ति का पालन करना चाहिए।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी