चीन अमेरिकी संसद में पारित "2018 में तिब्बत का समान प्रवेश" बिल का दृढ़ता से विरोध करता है:चीन

2018-12-14 18:30:00

अमेरिकी संसद में पारित "2018 में तिब्बत का समान प्रवेश" बिल के प्रति चीनी विदेश प्रवक्ता लू खांग ने 14 दिसंबर को कहा कि इस बिल ने चीन के आंतरिक मामलों में क्रूरता से हस्तक्षेप किया है और अंतरराष्ट्रीय संबंधों के बुनियादी मानदंडों का उल्लंघन किया है। चीन इस का दृढ़ता से विरोध करता है और इस पर अमेरिका के समक्ष मामला उठाया है।

लू खांग ने कहा कि तिब्बत का मामला चीन के अंदरूनी मामला है। इसमें दूसरे देशों के द्वारा हस्तक्षेप लगाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। विदेशी व्यक्ति सामान्य माध्यम से तिब्बत का दौरा कर सकते हैं। वर्ष 2015 से अमेरिका के चालीस हजार लोगों ने तिब्बत का दौरा किया और उनमें अमेरिकी संसद के सदस्य भी शामिल हुए। अमेरिकी संसद में पारित बिल में चीन के खिलाफ़ जो आरोप लगाया गया है, वह बिल्कुल निराधार है। चीन की सरकार और जनता इस का स्वीकार कतई नहीं करेगी।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी