यूएन में आप्रवासन समस्या पर वैश्विक अनुबंध पारित

2018-12-20 14:30:00

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 19 दिसम्बर को औपचारिक रूप से आप्रवासन समस्या पर वैश्विक अनुबंध पारित किया। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनिओ गुटरेस ने उसी दिन वक्तव्य जारी कर कहा कि अनुबंध पारित होने से आप्रवासन समस्या पर अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के लिए एक अच्छा प्लेटफार्म तैयार हुआ है।

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने पक्ष में 152 मतों, विपक्ष में 5 मतों और 12 तटस्थ रहने से इस अनुबंध को पारित किया। अमेरिका, इजराइल, चेक गणराज्य, हंगरी और पोलैंड ने विरोध में मत दिये, जबकि अन्य 24 सदस्य देश तटस्थ रहे।

गुटरेस ने वक्तव्य में कहा कि अनुबंध में विश्व के बुनियादी सामाजिक सिद्धांतों को दोहराया गया है। उन्होंने आशा जताई की कि इस प्रक्रिया में न भाग लेने वाले देश अनुबंध के मूल्य को समझकर अंत में इस कार्य में हिस्सा ले सकेंगे।

आप्रवासन समस्या का वैश्विक अनुबंध अंतर्राष्ट्रीय आप्रवासन समस्या से संबंधित एक समग्र सरकारों के बीच समझौता है। इस अनुबंध का पारित होना संयुक्त राष्ट्र चार्टर और अंतर्राष्ट्रीय कानून में प्रतिबिंबित मूल्य विचारधारा और सिद्धांत की पुनः पुष्टि है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी