पाकिस्तान के पूर्व पीएम शरीफ़ को 7 साल की सज़ा

2018-12-25 18:00:00

इस्लामाबाद स्थित पाकिस्तान की भ्रष्टाचार विरोधी अदालत ने 24 दिसम्बर को पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ़ को 7 साल की कैद की सज़ा सुनाई। उनके खिलाफ़ विदेश में बड़ी मात्रा में पूंजी के अवैध स्थानांतरण का आरोप है, इसके साथ ही नवाज़ शरीफ़ इस पूंजी का कानूनी स्रोत बताने में भी असफल रहे।

अदालत के फैसले के बाद शरीफ़ को जेल भेज दिया गया है। इस वर्ष जुलाई से अब तक यह दूसरा मौका है जब भ्रष्टाचार के आरोपों में उन्हें सज़ा सुनाई गयी है। पाक कानून के मुताबिक शरीफ़ अगले 10 दिनों में अपील दायर कर सकते हैं।

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट ने भ्रष्टाचार विरोधी अदालत की सूचना से हवाले से कहा कि उस दिन अदालत ने शरीफ़ और उनके परिवार के खिलाफ़ दो मुकदमों का फैसला सुनाया। एक मामले में शरीफ़ के अपराध की वजह से उन्हें 7 साल की सज़ा और 1.5 अरब पाकिस्तानी रुपये का जुर्माना किया गया।

रिपोर्ट के मुताबिक, शरीफ़ के परिवार ने कुछ साल पहले सऊदी अरब में एक स्टील कंपनी की स्थापित की, इसी दौरान भ्रष्टाचार हुआ। इस कंपनी के वास्तविक मालिक होने के नाते शरीफ़ को बड़ा मुनाफ़ा मिला। इस तरह शरीफ़ पर विदेशों में बड़ी मात्रा में पूंजी के अवैध स्थानांतरण करने और उसके कानूनी स्रोत न बताने के आरोप लगे।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी