“भारत-मध्य एशिया” विदेश मंत्रियों की पहली संवाद बैठक आयोजित

2019-01-14 17:01:00

“भारत-मध्य एशिया” विदेश मंत्रियों की पहली संवाद बैठक 13 जनवरी को उज़्बेकिस्तान के समरक़ंद में आयोजित हुई। भारत, कजाखस्तान, किर्गिज़स्तान, ताजिकिस्तान, उज़्बेकिस्तान और तुर्कमेनिस्तान आदि 5 मध्य एशियाई देशों और अफगानिस्तान के विदेश मंत्रियों ने इस बैठक में भाग लिया। बाद में सातों देशों ने संयुक्त कथन जारी किया कि क्षेत्रीय सतत विकास पूरा करने के लिये वे सहयोग को आगे मज़बूत करना चाहते हैं।

भारत और 5 मध्य एशियाई देशों के विदेश मंत्रियों की संवाद बैठक में सभी पक्षों ने सभी प्रकार के आतंकवाद का विरोध पर आम सहमति बनाई। उन्होंने भारत और मध्य एशियाई देशों के बीच दोस्ती और पारस्परिक रूप से लाभप्रद संबंध को मज़बूत करने के लिये आपसी सहयोग को आगे बढ़ाने पर चर्चा की। साथ ही उन्होंने मध्य एशियाई देशों के बीच यातायात को मज़बूत करने और क्षेत्रीय, अंतर्राष्ट्रीय परिवहन गलियारों को बढ़ाने पर चर्चा की।

इसके अलावा भारत, 5 मध्य एशियाई देशों और अफगानिस्तान के विदेश मंत्रियों की संवाद बैठक में भारत और मध्य एशियाई देशों के विदेश मंत्रियों ने अफगानिस्तान में शांति और सुलह की प्रक्रिया का समर्थन किया।

उम्मीद है कि आधारभूत सुविधाएं, ऊर्जा के साथ अन्य उपयोगी परियोजनाओं से अफगानिस्तान में तरक्की आएगी।

सभी पक्षों ने आम सहमति की कि वर्ष 2020 भारत के नई दिल्ली में “भारत-मध्य एशिया” विदेश मंत्रियों की दूसरी संवाद बैठक आयोजित होगी। अफगानिस्तान को इस संवाद तंत्र में नियमित रूप से भाग लेने का आमंत्रण दिया गया है।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी