विश्व आर्थिक मंच के वार्षिक सम्मेलन में वांग छीशान का भाषण

2019-01-24 10:01:02

स्थानीय समयानुसार 23 जनवरी को चीनी उप राष्ट्रपति वांग छीशान ने दावोस में विश्व आर्थिक मंच के वर्ष 2019 वार्षिक सम्मेलन में भाग लिया और भाषण भी दिया।

भाषण में उन्होंने कहा कि इस वर्ष चीन व विश्व आर्थिक मंच के बीच संबंध स्थापना की 40वीं वर्षगांठ है। 40 वर्षों में दावोस चीन के प्रति दुनिया को समझने, विचार-विमर्श का आदान-प्रदान करने, अपने रुख पर प्रकाश डालने और सहमति प्राप्त करने का एक महत्वपूर्ण मंच बन चुका है।

इस वर्ष चीन लोक गणराज्य की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ भी है। 70 वर्षों में चीन के विकास में उल्लेखनीय महान उपलब्धियां प्राप्त हुई हैं। तमाम विदेशी दोस्तों ने हमेशा मुझ से यह पूछा कि चीन में इतना बड़ा विकास व प्रगति कैसे हासिल हुई हैं?मैं ने जवाब दिया कि इतिहास, संस्कृति व दर्शन का विचार चीन को समझने के लिये एक चाबी है। चीन की वर्तमान स्थिति को जानने के लिये चीन का इतिहास पढ़ना पड़ा, ऐसा करके चीन के भविष्य का अनुमान लगा सकते हैं।

चीन एक बहुत कठोर रास्ते से गुजर रहा है। सही अनुभवों व गलत सबकों में चीन ने ऊंची कीमत चुकाने के साथ उज्जवल सफलताएं भी प्राप्त कीं, और एक चीनी विशेषता वाला समाजवादी रास्ता खोला।

इतिहास ने हमें पांच सबक दिए हैं कि पहला वैश्विक इतिहास की दृष्टि से देखा जाए, तो चीनी राष्ट्र लंबे समय में मानव की सभ्यता में पहले स्थान पर रही, और मानव के विकास के लिये विशेष योगदान भी दिये गये। दूसरा, बहुत जातियां इतिहास की लंबी नदी में लगातार मिलती जुलती थी, और फिर वर्तमान का चीनी राष्ट्र बने। तीसरा, चीन की संस्कृति में सहयोग व समान जीत का प्रोत्साहन दिया जाता है, और अपनी शक्ति से कमजोरों के हमले और प्रभुत्ववाद का विरोध किया जाता है। चौथा, 70 वर्षों में प्राप्त उपलब्धियां चीनी जनता की मेहनत, बुद्धि, साहस, सुधार व सृजन से पैदा हुईं। पांचवां, चीन की बुनियादी राष्ट्रीय स्थिति चीनी रास्ता, विचारधारा, व्यवस्था, सांस्कृतिक आत्मविश्वास का स्रोत है। हम एक सही रास्ते पर चल रहे हैं। भविष्य में हम सुधार व खुलेपन में लगातार चीनी विशेषता वाले समाजवाद का सुधार व विकास करेंगे। इसका हमें पूरा भरोसा है।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी