समावेशी निष्पक्ष और उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा की गारंटी दी जाए- संयुक्त राष्ट्र

2019-01-25 17:31:00

24 जनवरी को पहला अंतरराष्ट्रीय शिक्षा दिवस है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने उस दिन लिखित भाषण देते हुए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से शिक्षा को सार्वजनिक कार्य मानते हुए प्राथमिकता देने, इसी क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय सहयोग करने और पूंजी समर्थन करने की अपील की।

गुटेरेस ने बल देते हुए कहा कि शिक्षा संयुक्त राष्ट्र अनवरत विकास लक्ष्य का मूल है। अनुसंधान से जाहिर है कि अगर सभी किशोरों ने मध्यम शिक्षा पूरी की, तो 42 करोड़ जनसंख्या गरीबी से छुटकारा पा सकेगी। इस तरह समावेशी, निष्पक्ष और उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा की गारंटी दी जानी चाहिए, ताकि नागरिक आजीवन पढ़ाई जैसे पहलुओं में अधिक काम कर सकेंगे।

संयुक्त राष्ट्र युनेस्को के महानिदेशक ऑड्रे अज़ोले ने उस दिन लिखित भाषण देते हुए कहा कि अब तक कम से कम 26 करोड़ 20 लाख बच्चे और किशोर स्कूल जा नहीं सकते, जिनमें अधिकांश लड़कियां हैं। करीब 61 करोड़ 70 लाख बच्चे और किशोर पढ़ नहीं सकते और आधारभूत गणितीय संचालन कर सकते। इस तरह अंतरराष्ट्रीय सहयोग और सामूहिक कार्रवाई की जरूरत है। विभिन्न स्तरीय शिक्षा में समावेशी और निष्पक्षता को मजबूत किया जाना चाहिए, ताकि शिक्षा से हर इंसान को लाभ मिल सके।

गौरतलब है कि दिसम्बर 2018 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने निर्णय जारी कर हर साल 24 जनवरी को अंतरराष्ट्रीय शिक्षा दिवस मनाना तय किया।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी