टिप्पणी:चीन ने दूसरी बार विदेशी व्यापारिक पूंजी निवेश कानून की चर्चा की

2019-01-29 17:00:00

चीन की विधि निर्माण संस्था——चीनी राष्ट्रीय जन प्रतिनिधि सभा की स्थाई समिति ने 29 जनवरी से विदेशी व्यापारिक पूंजी निवेश कानून(मसौदा) की दूसरी बार चर्चा शुरू की। इससे जाहिर हुआ है कि चीन जल्द ही इसमें सुधार जारी रखना चाहता है। यह चीन द्वारा संस्थागत खुलेपन की ओर से आगे बढ़ाया गया एक महत्वपूर्ण व वास्तविक कदम है।

गत वर्ष के अंत में चीन ने वर्ष 2019 के आर्थिक कार्य की तैनाती के समय इस बात पर बल दिया कि नयी स्थिति से मेल खाना, संस्थागत खुलेपन को बढ़ावा देना, बाजार के प्रवेश को शिथिल करना, चीन में विदेशी व्यापारियों के वैध अधिकारों व हितों, खास तौर पर बौद्धिक संपदा की रक्षा करनी, और ज्यादा क्षेत्रों में एकमात्र स्वामित्व की अनुमति देनी चाहिये।

संस्थागत खुलेपन का केंद्र अंतर्राष्ट्रीय सामान्य नीति से मेल खाना है, और विश्व के मुख्य आर्थिक समुदायों में जारी बाजार नीति-नियम से मिलान है। विदेशी व्यापारिक पूंजी निवेश कानून (मसौदा) का लक्ष्य भी इस के आधार पर है। वह चीन में विदेशी व्यापारियों की पूंजी-निवेश के बुनियादी कानून बनने की संभावना होगी। जो चीन में और उच्च स्तरीय खुलेपन को मजबूत करने के लिये एक शक्तिशाली व अंतर्राष्ट्रीय नीति से मेल खाने वाली कानूनी सुनिश्चितता देगा।

चंद्रिमा

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी