विभिन्न देशों से सक्रिय रोजगार नीति अपनाने की अपील- चीन

2019-02-12 14:32:00

न्यूयार्क स्थित संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में 11 फरवरी को“सक्रिय रोजगार नीति”शीर्षक बैठक आयोजित हुई, चीनी स्थाई प्रतिनिधि मा चाओश्यू ने कहा कि विभिन्न देशों को सक्रिय रोजगार नीति अपनानी चाहिए और उच्च गुणवत्ता वाले रोजगार को बखूबी अंजाम देना चाहिए।

“सक्रिय रोजगार नीति”शीर्षक बैठक संयुक्त राष्ट्र स्थित चीनी स्थाई प्रतिनिधि मंडल, यूरोपीय संघ के प्रतिनिधि मंडल और अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित की गई। मा चाओश्यू ने कहा कि हाल के वर्षों में भूमंडलीय रोजगार स्थिति आम तौर पर स्थिर रही। इसके साथ ही एकपक्षवाद और संरक्षणवाद के प्रभाव से विश्व अर्थतंत्र में गिरावट बढ़ गई। वैज्ञानिक तकनीकी क्रांति की जा रही है और नई व पूरानी गतिज ऊर्जा के बीच परिवर्तन समाप्त नहीं हुआ। इनसे वैश्विक रोजगार में अनिश्चित और अस्थिर तत्व सामने आया। विभिन्न देशों को स्थिति के मुताबिक सक्रिय रोजगार नीति अपनानी चाहिए, चुनौतियों को मौके तक परिवर्तित कर पूर्ण और उच्च गुणवत्ता वाले रोजगार को बखूबी अंजाम देना चाहिए।

चीनी प्रतिनिधि मा चाओश्यू के मुताबिक, इधर के वर्षों में चीन ने रोजगार को प्राथमिकता देने वाली रणनीति अपनाई, देश में रोजगार की कुल मात्रा लगातार बढ़ रही है और संबंधित ढांचा निरंतर अच्छा हो रहा है, रोजगार की गुणवत्ता में स्पष्ट सुधार आया है, जिसकी स्थिति स्थिरता के साथ आगे बढ़ रही है। पिछले 6 सालों में चीनी शहरों और कस्बों में रोजगार प्राप्त लोगों की संख्या लगातार 1 करोड़ 30 लाख से अधिक बढ़ी है, साल 2018 के अंत तक रोजगार की कुल मात्रा करीब 78 करोड़ रही।

उन्होंने यह भी कहा कि“बेल्ट एंड रोड”पहल के कार्यान्वयन के पिछले 5 सालों में चीन ने तटीय देशों में 2.44 लाख रोजगार दिये। हाल में चीन ने खुलेपन का विस्तार करने के लिए सिलसिलेवार अहम कदम उठाए, जिससे वैश्विक रोजगार के संवर्धन में प्रेरक भूमिका निभायी जाएगी।

मा चाओश्यू ने कहा कि वैश्विकता के युग में विभिन्न देशों को और उच्च गुणवत्ता और पूर्ण रोजगार को साकार करने के लिए एक दूसरे से सीखना चाहिए।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी