इस्लामिक क्रांति विजय की 40वीं वर्षगांठ पर रूहानी ने भाषण दिया

2019-02-12 14:32:00

11 फरवरी की सुबह ईरान में पूरे देश में इस्लामी क्रांति विजय की 40वीं वर्षगांठ के अवसर पर एक विशाल सभा आयोजित हुई। ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने तेहरान में आयोजित एक रैली में कहा कि इस्लामी क्रांति से इन 40 वर्षों में ईरान में आर्थिक और सामाजिक विकास हुआ है। ईरान अपने रास्ते पर चलता रहेगा।

उन्होंने कहा कि अब ईरान ज्यादा मजबूत हुआ है और पूरी दुनिया के साथ रचनात्मक सहयोग करना चाहता है। इन 40 वर्षों में ईरान ने अर्थव्यवस्था, संस्कृति, राष्ट्रीय कल्याण और सामाजिक जीवन आदि क्षेत्रों में बड़ी प्रगति प्राप्त की है। इसके साथ ईरान की सैन्य ताकत भी बहुत बढ़ गई है। अब हथियारों की आत्मनिर्भरता दर 85 प्रतिशत तक पहुँच गई है जबकि इस्लामिक क्रांति से पहले ईरान में 95 प्रतिशत के हथियारों को विदेशों से आयात किया जाता था।

रूहानी ने अपने भाषण में युरोप और अमेरिका द्वारा ईरान के मध्य पूर्व में प्रभाव पर दी गई आलोचना पर भी जवाब दिया। उन्होंने कहा कि ईरान मध्य पूर्व में अपने प्रभाव को कम नहीं करेगा। पिछले 5 वर्षों में ईरान ने उचित रूप से इराक, सीरिया, लेबनान, फिलिस्तीन और यमन आदि मध्य पूर्व के देशों को सहायता प्रदान की है और इसका सफल परिणाम भी हुआ है। क्योंकि अब दुश्मन मध्य पूर्व से हटने वाला है। अब ईरान एकमात्र देश है जो मध्य पूर्व के देशों को आपातकालीन सहायता प्रदान कर सकता है। इसलिए मध्य पूर्व की सुरक्षा बिना ईरान की भागीदारी नहीं हो पाएगी।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी