"नेटवर्क चोरी" और हैकिंग अटैक के बहाने से चीन को बदनाम न करे:चीनी प्रवक्ता

2019-02-13 12:02:00

चीन की विदेश प्रवक्ता ह्वा छुन ईंग ने 12 फरवरी को संबंधित देशों से "नेटवर्क चोरी" और हैकिंग अटैक के बहाने से चीन को बदनाम न करने की मांग की।

कुछ पश्चिमी मीडिया का कहना है कि चीनी राष्ट्रीय सुरक्षा विभाग के तहत हैक ने नॉर्वे की सॉफ्टवेयर कंपनी में प्रवेश किया जिसका मकसद बौद्धिक संपदा और व्यापार रहस्य की चोरी करना है। एक दूसरी रिपोर्ट है कि ऑस्ट्रेलियाई संसद ने हैकिंग अटैक और चीन के बीच संबंधों की जांच करना शुरू किया है। नॉर्वे के खुफिया विभाग ने भी दावा किया कि रूस और चीन की तरफ से इंटरनेट हमला होने का खतरा मौजूद है।

चीनी प्रवक्ता ने कहा कि साइबर की सुरक्षा एक वैश्विक मुद्दा है जो विभिन्न देशों के समान हितों से संबंधित है और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को इसकी संयुक्त रूप से रक्षा करनी चाहिये। चीन नेटवर्क सुरक्षा का पक्का रक्षक है, चीन नेटवर्क के खिलाफ किये गये किसी भी प्रहार और चोरी का विरोध करता है। लेकिन गैर-जिम्मेदाराना आरोप, दबाव और प्रतिबंध करने से नेटवर्क तनाव पर जोर दिया जाएगा और सहयोग वातावरण को विषाक्त किया जाएगा। चीन संबंधित देशों से "नेटवर्क चोरी" और हैकिंग अटैक के बहाने से चीन को बदनाम न करने और चीन के हितों और द्विपक्षीय संबंधों को हानिकार कार्यवाहियों को खत्म करने की मांग करता है।

( हूमिन )

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी