सीरिया की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा पर रूस, तुर्की और ईरान ने जोर दिया

2019-02-15 14:32:00

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, तुर्की के राष्ट्रपति रिसेप तईप एरडोगन और ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने 14 फरवरी को दक्षिणी रूसी शहर सोची में एक संयुक्त बयान जारी कर सीरिया की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के रखरखाव पर जोर दिया।

रूस, तुर्की और ईरान के तीन राष्ट्रपतियों ने उसी दिन सीरिया की स्थिति और अमेरिकी सेना के सीरिया से हटने पर तीन-पक्षीय वार्ता की। वार्ता के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया है कि तीनों देश सीरिया की संप्रभुता, स्वतंत्रता, एकता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करेंगे और संयुक्त राष्ट्र चार्टर के लक्ष्यों और सिद्धांतों का पालन करेंगे। तीनों देशों का मानना है कि इन सिद्धांतों का पालन सार्वभौमिक रूप से किया जाना चाहिए और किसी को भी उन्हें नष्ट करने के लिए कोई कार्रवाई नहीं करनी चाहिए।

संयुक्त बयान में कहा गया है कि रूस, तुर्की और ईरान आतंकवाद विरोधी के बहाने सीरिया की संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता और पड़ोसी देशों की सुरक्षा को नष्ट करने का विरोध करेंगे। यदि अमेरिका वास्तविक रूप से सीरिया से सेना हटाएगा, तो इससे सीरिया में स्थिरता और सुरक्षा को मजबूत करने में मदद मिल सकती है।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी