जिनेवा स्थित 8 देशों के स्थाई प्रतिनिधियों और प्रमुख राजनयिकों की चीन यात्रा

2019-02-16 15:02:00

चीनी विदेश मंत्रालय के आमंत्रण पर जिनेवा स्थित पाकिस्तान, वेनेजुएला, क्यूबा, मिस्र, कंबोडिया, रूस, सेनेगल, बेलारूस समेत 8 देशों के स्थाई प्रतिनिधि और प्रमुख राजनयिक 15 फरवरी को चीन पहुंचे। वे 16 से 19 फरवरी तक सिनच्यांड वेवुर स्वायत्त प्रदेश की यात्रा करेंगे। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी के सूचना विभाग के उपमंत्री च्यांग चिए क्वो, चीनी उप विदेश मंत्री ल यू छेंग ने 15 तारीख को पेइचिंग में अलग अलग तौर पर चीन की यात्रा करने वाले उक्त अतिथियों से मुलाकात की।

च्यांग चिए क्वो ने कहा कि पिछली शताब्दी के 90 के दशक से अब तक हिंसक आतंकवादी ताकतों, अलगाववादी ताकतों, धार्मिक उग्रवादी ताकतों की तीन शक्तियों ने सिनच्यांड वेवुर स्वायत्त प्रदेश में कई हजार आतंकवादी हिंसा घटनाएं रचीं, जिससे बड़ी संख्या वाले व्यक्तियों की हताहती हुई और जान-माल का भारी नुकसान भी हुआ है। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के आतंकवाद विरोध के अनुभव के आधार पर सिनच्यांड ने अपने क्षेत्र की वास्तविक स्थिति से कई कदम उठाए, जिससे उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल हुईं। अब सिनच्यांड में लगातार 25 महीनों तक आतंकवादी हिंसक घटना नहीं हुई।

ल यू छेंग ने मुलाकात में कहा कि वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय स्थिति में अस्थिरताएं, अनिश्चितताएं और असुरक्षित कारक बढ़ रही हैं । विभिन्न पक्षों को लगातार बहुपक्षीय रास्ते पर आगे बढ़कर शांति, विकास, निष्पक्षता और सहयोग से मानवाधिकार को मज़बूत करना चाहिए, समान रूप से मानवाधिकारों के प्रभुत्व का विरोध करना चाहिए, ताकि विश्व मानवाधिकार कार्य के स्वस्थ विकास को आगे बढ़ाया जा सके।

चीन की यात्रा करने वाले प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने चीनी विशेषता वाले विकास के रास्ते और चीन द्वारा मिली उपलब्धियों की भूरी भूरी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि वे चीन के साथ वैश्विक मानवाधिकार शासन में निरंतर सुधार करने के लिए चीन के साथ प्रयास करना चाहते हैं।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी