रूस-चीन संबंध अंतर्राष्ट्रीय मामले के स्थिर तत्व

2019-02-21 11:01:06

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने 20 फरवरी को मॉस्को में कहा कि रूस-चीन संबंध अंतर्राष्ट्रीय मामले के स्थिर तत्व हैं। रूस द्विपक्षीय संबंधों के विकास को बड़ा महत्व देता है।

उस दिन पुतिन ने रूसी संसद में नीति विषय पर भाषण देकर उपरोक्त बात कही। उन्होंने कहा कि रूस और चीन के बीच समानता और आपसी लाभ वाले द्विपक्षीय संबंध अंतर्राष्ट्रीय मामलों में अहम स्थिर तत्व हैं, जो अच्छे आर्थिक सहयोग की मिसाल हैं। जो यूरोशियाई क्षेत्र की सुरक्षा को गारंटी देने में मददगार साबित होगा। साथ ही रूस भारत के साथ संबंधों की निहित शक्ति की खोज करने को भी महत्व देता है।

उन्होंने कहा कि रूस यूरेशियाई आर्थिक गठबंधन की एकता बाजार का निरंतर निर्माण करेगा और विदेशी सहयोग का विकास करेगा। साथ ही रूस यूरेशियाई आर्थिक गठबंधन और एक पट्टी एक मार्ग को जोड़ने की कोशिश भी करेगा।

रूस-अमेरिका संबंधों की चर्चा में पुतिन ने कहा कि हालिया रूस-अमेरिका संबंध का कुंजीभूत सवाल अमेरिका द्वारा एकतरफा तौर पर मध्यम दूरी की मिसाइल उन्मूलन संधि (आईएनएफ संधि) से हटना है। अमेरिका को इस समस्या पर रूस की निराधार निंदा नहीं करनी चाहिए।

रूस-यूरोप संबंधों की चर्चा में पुतिन ने आशा प्रकट की कि यूरोपीय संघ यथार्थ कदम उठाकर रूस के साथ सामान्य राजनीतिक और आर्थिक संबंधों का पुनः निर्माण कर सकेगा। यह सहयोग द्विपक्षीय हितों के लिए लाभदायक है।

घरेलू समस्या की चर्चा में पुतिन ने कहा कि रूस सिलसिलेवार उदार नीतियों से जन-जीवन के स्तर को उन्नत करेगा। साथ ही पुतिन ने गरीबी उन्मूलन, स्वास्थ्य और शिक्षा आदि क्षेत्रों में प्राप्त उपलब्धियों का निचोड़ किया और भविष्य की योजना भी बनायी।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी