चीन और सऊदी अरब के बीच वित्तीय वार्ता

2019-02-22 15:01:00

चीन-सऊदी अरब वित्तीय शाखा कमेटी ने 21 फरवरी को पेइचिंग में बैठक बुलायी। यह गत वर्ष चीन-सऊदी अरब उच्च स्तरीय संयुक्त कमेटी की प्रणाली में वित्तीय शाखा कमेटी के गठन के बाद सफलता से आयोजित पहली बैठक है। चीन और सऊदी अरब समग्र आर्थिक परिस्थिति और नीति, वैश्विक आर्थिक प्रशासन, द्विपक्षीय यथार्थ वित्तीय व कर सहयोग आदि मुद्दों और आपसी लाभ व साझी जीत वाले सहयोग की सहमतियों पर गहन रूप से विचार विमर्श किया।

चीनी उप वित्त मंत्री चो चायी ने अपने भाषण में कहा कि चीन और सऊदी अरब की मजबूत आर्थिक आपूर्ति है, दोनों के बीच विकास रणनीति मिलती जुलती है। दोनों को अहम क्षेत्रों पर केंद्रित कर द्विपक्षीय पूंजी निवेश व सहयोग को वित्तीय व कर समर्थन देना चाहिए। चीन और सऊदी अरब के बीच उच्च स्तरीय राजनीतिक आपसी विश्वास, एक पट्टी एक मार्ग पहल और सऊदी अरब की 2030 विजन और चीन के प्रति खुलेपन का विस्तार करना चीन और सऊदी अरब के सहयोग को अनेक लाभ दे सकेंगे।

चो ने सुझाव दिया कि चीन और सऊदी अरब बहुपक्षीय ढांचागत समन्वय व सहयोग को मजबूत करें।

सऊदी अरब के उप वित्त मंत्री हामद अल बाजेई ने अपने भाषण में कहा कि सऊदी अरब और चीन दोनों विकासशील देश हैं। दोनों भारी मौके और निहित शक्ति का सामना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सऊदी अरब अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक मंच पर चीन द्वारा अदा की गयी अहम भूमिका को बड़ा महत्व देता है और चीन के साथ वित्तीय क्षेत्र में यथार्थ सहयोग को बढ़ावा देकर द्विपक्षीय आर्थिक विकास को आगे विकसित करना चाहता है।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी