टिप्पणी:आर्थिक और व्यापारिक सलाह मशविरा पूरा करने की स्थिति में चीन और अमेरिका का प्रयास

2019-02-25 11:31:00

चीन और अमेरिका के बीच 7वें चरण का आर्थिक और व्यापारिक सलाह मशविरा 24 फरवरी को वाशिंगटन में सम्पन्न हुआ। 4 दिनों के प्रयास में दोनों पक्षों ने दोनों देशों के नेताओं के बीच अर्जेंटीना मुलाकात में मिली महत्वपूर्ण सहमतियों पर अमल किया, समझौते के पाठ पर वार्ता की, जिससे प्रौद्योगिकी हस्तांतरण, बौद्धिक संपदा संरक्षण, गैर-टैरिफ बाधाओं, सेवाओं, कृषि और विनिमय दर के क्षेत्रों में ठोस मामलों पर सार्थक प्रगति हासिल हुई। इसके साथ अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीटर पर 1 मार्च को अमेरिका को निर्यात पर चीन का टैरिफ बढ़ाने की योजना स्थगित करने की घोषणा की।

स्पष्ट बात है कि वर्तमान चरण के सलाह मशविरे में चीन और अमेरिका के बीच आर्थिक और व्यापारिक संघर्ष के मामले के समाधान के लिए आगे एक महत्वपूर्ण कदम उठाया गया। वर्तमान चरण के सलाह मशविरे में दोनों पक्षों ने ठोस मामले पर सार्थक प्रगति हासिल की और समझौते के पाठ पर वार्ता भी की।

कहा जा सकता है कि चीन और अमेरिका के बीच आर्थिक और व्यापारिक सलाह मशविरे में सार्थक प्रगति मिलना हितों के प्रतिच्छेदन का विस्तार करने के लिए दोनों पक्षों के प्रयास से अलग नहीं किया जा सकता है। वर्तमान चरण के सलाह-मशविरे की प्रमुख उपलब्धियां व्यापार के संतुलन और संरचनात्मक समस्या से संबंधित है।

चीन और अमेरिका के बीच आर्थिक और व्यापारिक सलाह मशविरा एक जटिल इंजीनियरिंग परियोजना जैसी है। सलाह मशविरे के 90 दिनों की अवधि का समय कम है और कार्य भारी है। वर्तमान में दोनों देशों के आर्थिक और व्यापारिक दल बड़े प्रयास से अंतिम रूप से समझौते के पाठ पर वार्ता करने के चरण में प्रवेश हुआ है। यह सबसे महत्वपूर्ण और सबसे कठिन चरण है।

चीन लगातार अधिकतम ईमानदारी और सबसे बड़े प्रयास से अगले सलाह मशविरे का कार्य करेगा। चीन को आशा है कि अमेरिका के साथ समान रूप से हितों के प्रतिच्छेदन का विस्तार किया जाएगा। इसके साथ चीन स्थापित लय के अनुसार अपने कार्य का अच्छी तरह करेगा, आगे सुधार गहराएगा, खुलेपन का विस्तार करेगा, ताकि तर्कसंगत और शांत से बाहर के बदलाव का मुकाबला किया जाएगा।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी