रूसी विदेश मंत्री के साथ वांग यी की मुलाकात

2019-02-27 11:31:00

26 फरवरी को चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने दक्षिण चीन के वू चेन शहर में चीन, रूस और भारत के विदेश मंत्रियों के बीच मुलाकात के लिए चीन की यात्रा पर आए रूसी विदेश मंत्री सेर्गेई लावरोव के साथ मुलाकात की। दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति जताई कि जटिल अंतर्राष्ट्रीय स्थिति का मुकाबला करने के लिए चीन और रूस को रणनीतिक संपर्क और सहयोग को मज़बूत करते हुए समान हितों की रक्षा करनी चाहिए, ताकि विश्व शांति और विकास को आगे बढ़ाने के लिए नया योगदान दिया जाए।

यह 2019 चीन और रूस के विदेश मंत्रियों के बीच पहली बार की मुलाकात के साथ अब तक वांग यी और सेर्गेई लावरोव के बीच 43वीं मुलाकात भी है। सर्वांगीण रणनीतिक साझेदार के रूप में चीन और रूस के बीच संबंध लंबे समय तक उच्च स्तर पर हैं।

मुलाकात में वांग यी ने कहा कि इस वर्ष चीन और रूस के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना की 70वीं वर्षगांठ है, जो दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण है। दोनों पक्षों को दोनों देशों के नेताओं के बीच आवाजाही के लिए तैयारी अच्छी तरह करना चाहिए, द्विपक्षीय संबंध स्थापना की 70वीं वर्षगांठ मनाने की सिलसिलेवार गतिविधियों का आयोजन करना चाहिए, ताकि द्विपक्षीय संबंधों का और बड़ा विकास किया जा सके।

वांग यी ने कहा कि चीन, रूस और भारत वैश्विक प्रभाव वाले बड़े देशों के साथ नवोदित बाज़ार देश भी हैं। तीनों देशों के बीच संपर्क, समन्वय और सहयोग को मज़बूत करना क्षेत्रीय और वैश्विक महत्व रखता है। चीन रूस और भारत के साथ वर्तमान तीन देशों के विदेश मंत्रियों के बीच मुलाकात में सार्थक प्रगति हासिल करने के लिए प्रयास करना चाहता है।

सेर्गेई लावरोव ने चीन रूस संबंध पर वांग यी की टिप्पणी और सुझाव पर सहमति जताई और कहा कि ये वर्ष रूस और चीन के लिए महत्वपूर्ण है। जटिल और बदलावों भरी अंतर्राष्ट्रीय परिस्थिति में रूस और चीन को घनिष्ठ संपर्क बनाने और सहयोग करने की ज़रूरत है। रूस चीन और भारत के साथ घनिष्ठ समन्वय से तीनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच मुलाकात का आयोजन करेगा, ताकि तीनों पक्षों के बीच सहयोग को आगे बढ़ाया जा सके।

(वनिता)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी