चीन-रूस–भारत विदेश मंत्री बैठक में कई समानताएं संपन्न

2019-02-28 10:02:00

27 फरवरी को चीनी स्टेट काउंसिलर और विदेश मंत्री वांग यी, रूसी विदेश मंत्री सेर्गेई लावरोव और भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वाराज ने पूर्वी चीन के च च्यांग प्रांत के वु चेन कस्बे में संयुक्त रूप से तीन देशों के विदेश मंत्रियों की 16वीं बैठक की। तीनों पक्षों ने कई समानताएं बनायीं और वर्तमान स्थिति में समन्वय और सहयोग की मज़बूती पर बल दिया और इस साल में बहुपक्षीय मौके पर फिर तीन देशों की शिखर बैठक करने का सुझाव दिया ताकि तीनों पक्ष के निरंतर सहयोग के लिए महत्वपूर्ण राजनीतिक मार्गदर्शन किया जाए।

वांय यी ने मीडिया को बताया कि तीनों पक्ष सहमत हुए हैं कि वर्तमान जटिल अंतरराष्ट्रीय परिस्थिति में विश्व के तीन बड़े देशों और मुख्य नवोदित अर्थव्यवस्था होने के नाते चीन ,रूस और भारत को समन्वय और सहयोग मज़बूत करने की आवश्कता है, जो विश्व के लिए अधिक स्थिरता और सकारात्मक ऊर्जा लाएगा।

तीनों पक्ष किसी भी प्रकार के आतंकवाद पर मिलकर प्रहार करने पर सहमत हुए हैं। वे आतंकवाद विरोधी नीति पर संपर्क और व्यावहारिक सहयोग बढ़ाएंगे, खासकर आतंकवादी और उग्रवादी विचारों के पनपने की भूमि मिटाने की कोशिश करेंगे।

भारत-पाक स्थिति के बारे में वांग यी ने बताया कि चीन वर्तमान तनाव को लेकर चिंतित है ।आशा है कि दोनों पक्ष संयम रखेंगे और तनाव बढ़ाने से बचेंगे। उन्होंने बल दिया कि भारत और पाकिस्तान के समान दोस्त होने के नाते हमें उम्मीद है कि दोनों पक्ष वार्ता से हकीकत का पता लगाएंगे ,स्थिति को नियंत्रित करेंगे ,मसलों का हल ढूंढेंगे , एक साथ क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को बनाए रखेंगे ।चीन इसके लिए रचनात्मक भूमिका निभाना चाहता है।

(वेइतुंग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी