अमेरिका-डीपीआरके शिखर मुलाकात में समझौता नहीं करने पर द.कोरिया को दुर्भाग्य महसूस हुआ, रूस दोनों पक्षों की अगली वार्ता का समर्थन करेगा

2019-03-01 11:01:00

हनोई में आयोजित अमेरिका-डीपीआरके दूसरी बार की शिखर मुलाकात में समझौता नहीं करने पर दक्षिण कोरिया को दुर्भाग्य महसूस हुआ है। लेकिन इस बार की मुलाकात में सार्थक प्रगति मिली है। दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति महल चोंग वा डाए के प्रवक्ता किम यूई-कीओम ने 28 फरवरी को यह बात कही। उस दिन रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया ज़खारोवा ने कहा कि रूसी सरकार अमेरिका और डीपीआरके के बीच आगे वार्ता का समर्थन करता है।

किम यूई-कीओम ने कहा कि लंबे समय से चर्चा करने के बाद अमेरिका और डीपीआरके के नेताओं ने आपसी दुर्दशा पर बेहतर समझ बनाई। विशेषकर अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनाल्ड ट्रम्प ने निरंतर वार्ता की इच्छा और आशावादी दृष्टिकोण प्रकट किया। इससे अगली मुलाकात का भावदृश्य स्पष्ट बना है। उम्मीद है कि इस बार की मुलाकात के आधार पर अमेरिका और डीपीआरके आगे वार्ता करेंगे। दक्षिण कोरियाई सरकार अमेरिका और डीपीआरके के बीच निकट संपर्क, सहयोग और बातचीत बनाए रखने के लिये सभी प्रयास करेगी।

उस दिन मास्को में मारिया ज़खारोवा ने अपील की कि रूस ने ट्रम्प और डीपीआरके के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन के आगे वार्ता करने की इच्छा का सक्रिय मूल्यांकन किया। रूस को लगता है कि कोरियाई प्रायद्वीप की राजनीतिक और कूटनीतिक प्रक्रिया को रूस और चीन द्वारा प्रस्तावित ट्रैक पर सक्रिय विकास करना चाहिये। यह काफी महत्वपूर्ण है। कोरियाई प्रायद्वीप की परिस्थिति की व्यापक मध्यस्थता पूरी करने के लिये रूस संबंधित पक्षों के साथ बहुपक्षीय सहयोग और संयुक्त प्रयास को मज़बूत बनाना चाहता है।(हैया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी