इटली व चीन अंतर्राष्ट्रीय बहुपक्षीयवादी व्यवस्था का समर्थन करते हैं

2019-03-21 15:32:00

इटली और चीन के व्यापक रणनीतिक साझेदारी संबंधों का मजबूत आधार है। इधर के सालों में दोनों के बीच उच्च स्तरीय आवाजाही में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल हुई हैं। दोनों के बीच गैरसरकारी आदान प्रदान निरंतर विस्तृत होता रहा है। आशा है कि चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की इटली यात्रा द्विपक्षीय संबंधों के विकास को आगे बढ़ा सकेगी। यह यूरोप व एशिया के सहयोग के लिए लाभदायक है, साथ ही दोनों पक्षों की जनता के भी हित में है। यह बात इटली के राष्ट्रपति सेर्गिओ मतारेला ने चीनी मीडिया के साथ संयुक्त साक्षात्कार में कही।

इटली के राष्ट्रपति के निमंत्रण पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग 21 से 23 मार्च तक इटली की राजकीय यात्रा पर हैं। हाल में इटली यूरोपीय संघ में चीन का पांचवां बड़ा व्यापारिक साझेदार है। जबकि एशिया में चीन इटली का पहला बड़ा व्यापारिक साझेदार है। दोनों देशों के अर्थतंत्र की कई आपसी आपूर्ति हैं। 2018 में चीन-इटली द्विपक्षीय व्यापारिक रकम 54.23 अरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंची, जिसकी वृद्धि दर 15 प्रतिशत है। इटली के राष्ट्रपति ने साक्षात्कार में कहा कि द्विपक्षीय आर्थिक व व्यापारिक संबंध द्विपक्षीय संबंध का मिल पत्थर है। यूरोपीय संघ के संस्थापक सदस्य देश होने के नाते इटली बहुपक्षीय व्यापारिक सिस्टम का दृढ़ समर्थन करता है। साथ ही इटली व चीन प्राचीन सभ्यता वाले देश हैं। एक पट्टी एक मार्ग की पहल के ढांचे में द्विपक्षीय सांस्कृतिक सहयोग की भारी गुंजाइश है। भविष्य में चीन और इटली को संवाद मजबूत कर एक दूसरे के ध्यानाजनक सवालों पर ख्याल कर विविधतापूर्ण क्षेत्रों में सहयोग करना चाहिए।

(श्याओयांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी