ट्रम्प ने गोलान हाइट्स पर इजरायल की संप्रभुता को मान्यता दी

2019-03-26 11:33:00

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 25 मार्च को आधारिक रूप से इजरायल की गोलान हाइट्स पर संप्रभुता को मान्यता दी। सीरिया, रूस और अरब लीग आदि देशों व संगठनों ने इस का विरोध व्यक्त किया और चेतावनी दी कि इससे क्षेत्रीय स्थिति में तनाव बढ़ेगा।

गौरतलब है कि ट्रम्प ने उसी दिन व्हाइट हाउस में अमेरिका की यात्रा कर रहे इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के साथ मुलाकात की और गोलन हाइट्स पर इजरायल की संप्रभुता को औपचारिक रूप से मान्यता देने की घोषणा पर हस्ताक्षर किया। नेतन्याहू ने कहा कि इस कदम का ऐतिहासिक महत्व है।

सीरियाई विदेश मंत्रालय ने उसी दिन घोषणा जारी करके ट्रम्प के इस फैसले का पूरी तरह से विरोध किया और कहा कि यह कदम "सीरिया की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का खुलकर उल्लंघन" है।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने अपने प्रवक्ता के माध्यम से कहा कि गोलन हाइट्स की स्थिति नहीं बदली है। इस मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र की नीति प्रासंगिक सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों में परिलक्षित है।

अरब लीग के महासचिव अहमद अब्दुल घेट ने कहा कि ट्रम्प का यह कदम अंतर्राष्ट्रीय कानून का उल्लंघन है, जो गैर-प्रभावी है। यह कदम इस तथ्य को नहीं बदलेगा कि सीरिया का गोलान हाइट्स पर कब्जा है।

रूसी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मारिया ज़ाखारोवा ने मीडिया से कहा कि ट्रम्प का यह कदम अंतर्राष्ट्रीय कानून और सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के मानदंडों का उल्लंघन है। जिससे मध्य पूर्व में फिर एक बार तनाव पैदा होने की संभावना है।

(नीलम)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी