विश्व शासन पर चीन-फ्रांस मंच उद्घाटित

2019-03-26 11:33:00

फ्रांसीसी विदेश मंत्री ले ड्रियन भाषण देते हुए

चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की फ्रांस यात्रा के दौरान विश्व शासन पर चीन-फ्रांस मंच स्थानीय समयानुसार 25 मार्च को पेरिस में उद्घाटित हुआ। चीनी स्टेट काउंसलर, विदेश मंत्री वांग यी और फ्रांसीसी विदेश मंत्री जीन-यवेस ले ड्रियन ने उद्घाटन समारोह में भाषण देते हुए कहा कि दोनों देशों को चुनौतियों से निपटने के लिए हाथ मिलाकर सहयोग करना चाहिए।

चीन और फ्रांस के संबंधित सरकारी विभागों के उच्च स्तरीय अधिकारी, टिंकटैंक विशेषज्ञ, विद्वान, मशहूर उद्योगों के निर्देशक, यूरोपीय संघ, संयुक्त राष्ट्र और आर्थिक सहयोग संगठन (ओईसीडी) के प्रतिनिधि समेत 200 से अधिक लोगों ने इस मंच में भाग लिया। दो दिवसीय मंच के दौरान“बेल्ट एंड रोड और आपसी संपर्क”,“बहुपक्षवाद और विश्व शासन”,“डिजिटल शासन की चुनौती और मौका”और“जलवायु परिवर्तन और जीव-जंतु की विविधता”आदि विषयों पर संगोष्ठी आयोजित की जा रही है।

उद्घाटन समारोह में फ्रांसीसी विदेश मंत्री ले ड्रियन और चीनी विदेश मंत्री क्रमशः भाषण दिए। ले ड्रियन ने कहा कि एकतरफ़ावाद और संरक्षणवाद से अंतरराष्ट्रीय संबंध के आधारभूत सिद्धांत प्रभावित हो रहे हैं। फ्रांस और चीन को हाथ मिलाकर सहयोग करते हुए लगातार नवाचार करना चाहिए। विश्व शासन के ढांचे पर विचार विमर्श करते हुए चुनौतियों का समान रुप से मुकाबला करना चाहिए। फ्रांस निष्पक्ष स्पर्धा और समान सुरक्षा का समर्थन करता है और चीन के साथ मिलकर जलवायु परिवर्तन समेत वैश्विक मुद्दों के मुकाबले में सहयोग करना चाहता है। उन्होंने कहा कि फ्रांस यूरोपीय संघ की“यूरोप व एशिया के बीच आपसी संपर्क”वाली योजना और चीन के“बेल्ट एंड रोड”पहल को जोड़ने का समर्थन करता है। उनके विचार में इस से दोनों पक्ष उभय जीत प्राप्त करेंगे। यह दो तरफ़ा आवाजाही है, फ्रांस अर्थतंत्र और पर्यावरण से जुड़े मापदंड को पूरा करने के आधार पर चीन के साथ ठोस परियोजनाओं के कार्यान्वयन करने की तैयारी कर चुका है।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी