मध्य-पूर्व के संबंधित पक्षों ने अमेरिका की ज़ोरदार निंदा की

2019-03-26 15:02:00

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने 25 मार्च को डिक्री पर हस्ताक्षर किया और कब्ज़े वाले सीरिया के गोलन हाइट्स क्षेत्र पर इसराइल की संप्रभुता को मान्यता दी। अरब देशों ने अमेरिकी सरकार की जोरदार निंदा की और इसका सख़्त विरोध भी किया।

सीरिया सरकार ने डोनाल्ड ट्रम्प के इस फैसले का विरोध किया है। एक सीरियाई अधिकारी ने कहा कि गोलान हाइट्स क्षेत्र पर इसराइल की संप्रभुता को मान्यता देना सीरिया की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता का उल्लंघन है, अमेरिका ने अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन भी किया है।

अरब लीग के महासचिव ने वक्तव्य जारी कर कहा कि डोनाल्ड ट्रम्प की यह डिक्री अमान्य है। इसराइल ने गोलान हाइट्स क्षेत्र पर कब्ज़ा कर लिया, और अमेरिकी सरकार ने कब्ज़े वाली भूमि के वैधीकरण को मान्यता दी, यह अमेरिका की बड़ी गलती है।

अरब संसद के अध्यक्षमशाल सालमी ने इस डिक्री की ज़ोरदार निंदा की। उन्होंने कहा कि इस डिक्री का कोई कानूनी प्रभाव नहीं है। यह संयुक्त राष्ट्र के सुरक्षा परिषद के संबंधित प्रस्ताव का उल्लंघन है। (मीरा)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी