बहुपक्षवाद की रक्षा और विश्व शासन की संपूर्ण पर चीन और फ्रांस का संयुक्त बयान जारी

2019-03-27 11:32:00

फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन के निमंत्रण पर चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 24 से 26 मार्च तक फ्रांस की राजकीय यात्रा की। दोनों नेताओं ने अंतरराष्ट्रीय परिस्थिति और अहम अंतरराष्ट्रीय क्षेत्रीय मुद्दों का सिंहावलोकन किया और आम सहमतियां प्राप्त की।

पहला, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के स्थाई सदस्य के रूप में चीन और फ्रांस विश्व शांति और सुरक्षा के संवर्धन के लिए सक्रिय योगदान देंगे।

दूसरा, दोनों देशों का मानना है कि वर्तमान परिस्थिति में बहुपक्षवाद पर डटा रहना अंतरराष्ट्रीय सहयोग को आगे बढ़ाने, लगातार बढ़ रहे समान जोखिम और चुनौतियों का मुकाबला करने, विश्व शांति और समृद्धि की रक्षा करने वाला सबसे अच्छा तरीका है। दोनों देशों ने अंतरराष्ट्रीय कानून के आधार पर बहुपक्षवाद की स्थापना को आगे बढ़ाएंगे।

तीसरा, दोनों देश संयुक्त राष्ट्र के कोर वाली अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था, संयुक्त राष्ट्र की प्रतिष्ठा और स्थान की दृढ़ता से रक्षा करेंगे।

चौथा, दोनों देशों ने जलवायु परिवर्तन, जीव-जंतु की विविधता के खो जाने और पर्यावरण संरक्षण आदि क्षेत्रों में मौजूद चुनौतियों का समान रुप से मुकाबला करने को दोहराया।

पांचवां, दोनों देश जलवायु वित्त, कार्बन मूल्य निर्धारण और प्रकृति के आधार पर समाधान प्रस्ताव के तैयारी कार्य का मार्गदर्शन करेंगे, ताकि 23 सितंबर 2019 को संयुक्त राष्ट्र महासचिव द्वारा आयोजित जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन के सफल आयोजन को सुनिश्चित किया जा सके।

छठा, दोनों देशों ने वचन दिया कि पेरिस समझौते का व्यापक तौर पर कार्यान्वयन किया जाएगा, वर्ष 2020 से पहले इस शताब्दी के मध्यम ग्रीन हाउस की कम निकासी वाली विकास रणनीति सूचित करेंगे।

सातवां, दोनों देश जलवायु परिवर्तन के मुकाबले और जीव-जंतु की विविधता के संरक्षण क्षेत्र में ज्यादा सार्वजनिक और निजीगत पूंजी के निवेश को प्रोत्साहन देंगे, विकासशील देशों के लिए जलवायु राशि वाले समर्थन की प्राप्ति के लिए प्रयास करेंगे।

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी