एशिया वैश्विक आर्थिक वृद्धि का सबसे तेज़ी से उभरता हुआ क्षेत्र बन चुका है- ली पाओतुङ

2019-03-29 11:32:00

वार्षिक बोआओ एशिया मंच 26 मार्च को दक्षिण चीन के हाईनान प्रांत के बोआओ शहर में उद्घाटित हुआ। बोआओ एशिया मंच की परिषद के महासचिव ली पाओतुङ ने 26 मार्च को आयोजित न्यूज़ ब्रीफिंग में आंकड़े सार्वजनिक कर कहा कि एशिया वैश्विक आर्थिक वृद्धि का सबसे तेज़ी से उभरता हुआ क्षेत्र बन चुका है। पिछले 10 सालों में विश्व जीडीपी की वृद्धि में एशिया की योगदान दर 60 प्रतिशत तक पहुंच गयी।“यह बहुत बड़ा योगदान है, जो हमारे एशियाई जनता के लिए गर्व की बात है।”ली पाओतुङ ने यह बात कही। अमेरिकी समाचार एजेंसी ब्लूमबर्ग न्यूज़ के अनुसार, मौजूदा बोआओ एशिया मंच चीन के सुधार का कदम दिखाया जाएगा, खास कर चीन और अमेरिका के बीच व्यापार विचार विमर्श की कूंजीभूत कड़ी में।

मौजूदा साल 2019 बोआओ एशिया मंच के वार्षिक सम्मेलन की थीम“समान भाग्य, समान कार्रवाई, समान विकास”है। ली पाओतुङ के अनुसार कुल 60 देशों और क्षेत्रों के 2 हज़ार प्रतिनिधियों ने इसमें भाग लिया।

बोआओ एशिया मंच के दौरान चार अकादमिक रिपोर्टें जारी हुईं, यानी कि“नवोदित आर्थिक समुदाय के विकास की 2019 वार्षिक रिपोर्ट”,“एशियाई आर्थिक एकता प्रक्रिया की 2019 वार्षिक रिपोर्ट”,“एशिया की स्पर्धा शक्ति की 2019 वार्षिक रिपोर्ट”और“एशिया वित्तीय विकास रिपोर्ट”हैं। चीनी थाईवान संयुक्त समाचार वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, एशिया और प्रशांत के 37 आर्थिक समुदायों की स्पर्धा शक्ति रेंकिंग में दक्षिण कोरिया, चीनी थाईवान, सिंगापुर, चीन के हांगकांग, जापान पहले पाँच श्रेणी में रहे, चीन की मुख्यभूमि लगातार 6 सालों में नौवें स्थान पर रहा। इस रिपोर्ट के मुताबिक, चीन-अमेरिका व्यापारिक विवाद से प्रभावित होने के बावजूद चीनी अर्थतंत्र की धीमी गति से वृद्धि हो रही है, लेकिन वह मजबूत शॉक प्रतिरोध शक्ति दिखा रहा है, जो कि एशियाई अर्थतंत्र में स्तंभ वाली भूमिका निभा रहा है।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी