जलवायु परिवर्तन के निपटारे के लिए अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को एक साथ काम करने की आवश्यकता हैः चीनी प्रतिनिधि

2019-03-30 15:01:00

संयुक्त राष्ट्र में चीनी स्थायी प्रतिनिधि मा चाओशू ने 29 मार्च को कहा कि जलवायु परिवर्तन एक बड़ी चुनौती है, जो मानव समुदाय के भविष्य को प्रभावित करती है। इसे लेकर अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को एक साथ काम करने की आवश्यकता है। वर्ष 2018 में, संयुक्त राष्ट्र जलवायु परिवर्तन कटोविस सम्मेलन में पेरिस समझौते के कार्यान्वयन पर विशिष्ट नियम स्पष्ट किया गया। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को इसके तहत और अधिक प्रयास करना चाहिए और वैश्विक हरित और निम्न-कार्बन परिवर्तन को बढ़ावा देना है।

अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को मानव समुदाय के साझे भविष्य के निर्माण में आम जिम्मेदारी लेना जारी रखते हुए संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन क्लाइमेट चेंज और पैरिस समझौते में अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करना चाहिये।

विकसित देशों को 2020 तक हर साल 1 खरब अमेरिकी डॉलर की आर्थिक सहायता देने के वचन का पालन करना है। विकासशील देशों को उन्नत प्रौद्योगिकियों को स्थानांतरित करना चाहिए, ताकि जलवायु परिवर्तन से निपटने की उनकी क्षमता में सुधार किया जा सके। वैश्विक साझेदारी को मज़बूत करने के साथ-साथ जलवायु परिवर्तन पर व्यावहारिक आदान-प्रदान और आपसी सहयोग को गहराने की ज़रूरत है।

मा चाओशू ने उसी दिन आयोजित संयुक्त राष्ट्र महासभा की जलवायु परिवर्तन पर उच्च स्तरीय बैठक में यह बात कही।

मा चाओशू के अनुसार, जलवायु परिवर्तन पर चीन का दृढ़ विश्वास है। चीन पूरी तरह से नवाचार, समन्वय, हरित, खुले और साझा विकास की अवधारणा को लागू कर रहा है। हरित और कम कार्बन उत्सर्जन के विकास में तेज़ी लाने और पारिस्थितिक सभ्यता के निर्माण को बढ़ावा देने में पूरी कोशिश करता रहता है।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी