ब्रिटिश संसद ने ब्रेक्सिट समझौते के प्रमुख हिस्से को खारिज कर दिया

2019-03-30 16:31:00

मूल योजना के अनुसार, 29 मार्च को ब्रिटेन के यूरोपीय संघ से हटाने का दिन था। लेकिन इस दिन, ब्रिटिश संसद की निचली सदन ने एक बार फिर ब्रेक्सिट समझौते के प्रमुख हिस्से को खारिज कर दिया। अब ब्रेक्सिट की प्रक्रिया और भी असमंजसकारी हो गयी।

"286 वोटों का समर्थन, 344 वोटों का विपक्ष, बाहर निकलने का समझौता अमान्य है!"

29 तारीख की दोपहर 2 बजे ब्रिटिश संसद में हाउस ऑफ कॉमन्स के अध्यक्ष जॉन बर्कोव ने वोटों के परिणामों की घोषणा की।

ब्रेक्सिट समझौते में दो भाग हैं, ब्रेक्सिट समझौता और यूके और ईयू के बीच भविष्य के संबंधों पर एक राजनीतिक घोषणा। 29 तारीख को सांसदों ने केवल ब्रेक्सिट समझौते पर मतदान किया। यह ब्रिटेन के बाहर निकलने की शर्तें हैं, जिनमें विवादास्पद "गोलमाल फीस", "नागरिक अधिकार" और उत्तरी आयरलैंड और आयरलैंड के बीच सीमा व्यवस्था शामिल हैं। उनमें से, उत्तरी आयरलैंड और आयरलैंड के बीच सीमा व्यवस्था ब्रेक्सिट की कठिनाई है। 15 जनवरी और 12 मार्च को, ब्रेक्सिट समझौते को संसद में दो बार खारिज किया गया था।

ब्रिटिश प्रधान मंत्री टेरेसा मे ने संसद के वीटो पर गहरा खेद व्यक्त किया। साथ ही उन्होंने कहा कि ब्रिटेन ने यूरोपीय संसद के चुनावों में भाग लेने के लिए "मूल रूप से पुष्टि की है"।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी