मिस्र के राष्ट्रपति और संयुक्त राष्ट्र महासचिव के बीच मध्यपूर्व की स्थिति पर चर्चा

2019-04-04 19:01:01

मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी ने 3 अप्रैल को काहिरा में संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटरेस से मुलाकात की और लीबिया, सीरिया और यमन आदि अहम क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा की।

मिस्र के राष्ट्रपति भवन के प्रवक्ता ने बयान देते हुए कहा कि राष्ट्रपति सीसी ने भेंट वार्ता में क्षेत्रीय मुद्दों पर मिस्र का रुख दोहराया, यानी कि संबंधित देशों की एकता को बनाए रखा जाएगा और व्यवस्था के सामान्य संचालन का समर्थन किया जाएगा। फिलिस्तीन-इजरायल मुद्दे पर राष्ट्रपति सीसी ने इस के व्यापक और निष्पक्ष तौर पर समाधान के लिए संयुक्त राष्ट्र और अंतरराष्ट्रीय समुदाय द्वारा की गई कोशिशों के समर्थन पर भी ज़ोर दिया।

मिस्र के विदेश मंत्री सामेश सामेह शौकरी ने मुलाकात के बाद आयोजित एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा दोनों नेताओं ने सीरिया, लीबिया और यमन की समस्याओं के समाधान वाले प्रस्ताव, संबंधित अंतर्राष्ट्रीय निर्णय और “दो-राज्य वाली योजना” के आधार पर फिलिस्तीन मुद्दों को हल करने पर विचार विमर्श किया।

वहीं, संयुक्त राष्ट्र महासचिव गुटरेस ने कहा कि लीबिया मुद्दे पर मिस्र ने जिस प्रकार कार्य किया है, वह सराहनीय है। गाजा पट्टी में संघर्ष की स्थिति को बढ़ने से रोका है और फिलिस्तान को सहायता दी है।

उन्होंने यह भी कहा कि मिस्र और संयुक्त राष्ट्र एक साथ “दो-राज्य वाली योजना” के कार्यान्वयन को आगे बढ़ा रहे हैं। अमेरिका ने गोलान हाइट्स पर इजरायल की संप्रभुता को माना है, इस पर गुटरेस ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र का मानना है कि सीरिया की संप्रभुता का सम्मान किया जाना चाहिए और संयुक्त राष्ट्र गोलान हाइट्स पर सीरिया की संप्रभुता मानता है।

(आलिया)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी