कांगो में इबोला वायरस की स्थिति बहुत खतरनाक नहीः डब्ल्यूएचओ

2019-04-13 17:32:01

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने 12 तारीख को कहा कि हालांकि पिछले कुछ हफ्तों में कांगो में इबोला वायरस के संक्रमण के मरीजों में तेजी आई, लेकिन मौजूदा महामारी की स्थिति अब तक अंतरराष्ट्रीय चिंता के सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्तर पर नहीं पहुंची। इसके बावजूद, महामारी की रोकथाम और नियंत्रण के लिये संबंधित विभागों को अधिक प्रयास करने की आवश्यकता है।

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्रियसस ने “अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य विनियम” के अनुसार, 12 तारीख को कांगो इबोला महामारी पर डब्ल्यूएचओ की इमरजेंसी कमेटी की बैठक बुलाई। उनके मुताबिक, मौजूदा महामारी की स्थिति अब तक अंतरराष्ट्रीय चिंता के सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्तर पर नहीं पहुंची है, लेकिन उन्होंने कांगो में संक्रमण लोगों की संख्या वृद्धि होने पर चिंता व्यक्त की, क्योंकि इससे पड़ोसी देशों में भी महामारी फैलने का आशंका होगी।

डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, सभी पक्षों को महामारी को पहचानने और रोकने पर अधिक ध्यान देना चाहिए। और रोगियों से सभी संपर्कों और संबंधित कर्मियों को उच्चतम स्तर का टीका लगवाना चाहिये। आपात समिति ने जोर देकर कहा कि इबोला महामारी से पीड़ित उत्तरी किवु और दे ल'टूरी क्षेत्र में विशेष हस्तक्षेप कार्य करने की जरूरत है।

अंजली

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी