रूस संघ के सखा गणराज्य:चीन के साथ अधिक निवेश और सहयोग परियोजना की स्थापना करना चाहता है

2019-04-15 11:34:00

सखा गणराज्य (याकूतिया) रूस संघ का सबसे बड़ा प्रशासनिक क्षेत्र है, जिसका प्राकृतिक संसाधन प्रचुर है। हाल ही में सेंट पीटर्सबर्ग में आयोजित पांचवें अंतर्राष्ट्रीय आर्कटिक फोरम में भाग ले रहे सखा गणराज्य (याकूतिया) के नेता अइसन निकोलाव ने चीनी संवाददाता को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि दूसरा“बेल्ट एंड रोड”अंतरराष्ट्रीय सहयोग शिखर सम्मेलन जल्द ही आयोजित होने वाला है। उन्हें आशा है कि चीन के साथ प्राकृतिक संसाधन क्षेत्रों में अधिक निवेश और सहयोग परियोजनाओं की स्थापना करेंगे।

अइसन निकोलाव ने कहा कि चीन का बाज़ार बड़ा है, सखा गणराज्य चीन के साथ सहयोग करना चाहता है। इधर के सालों में रूसी सरकार ने याकूतिया क्षेत्र में आधारभूत संस्थापन के निर्माण को तेज़ किया, रेलवे आदि यातायात संस्थापनों की संपूर्णता से चीन के बीच दूरी कम हुई। खनिज संसाधन के अलावा, याकूतिया और चीन के बीच ऊर्जा क्षेत्र में सहयोग भी कर सकेगा।

निकोलाव के मुताबिक, रूस में सबसे ज्यादा निहित शक्ति मौजूद वाले नवोदित पर्यटन क्षेत्र होने के नाते पेइचिंग से सखा गणराजय की राजधानी याकुत्स्क तक 3 घंटे की विमान यात्रा है, यहां चीनी पर्यटकों का स्वागत है।

गौरतलब है कि रूस के तत्वावधान में अंतरराष्ट्रीय आर्कटिक फोरम आर्कटिक मुद्दे और विकास के अनुसंधान वाला बहु-पक्षीय मंच है। पांचवें अंतरराष्ट्रीय आर्कटिक फोरम में विभिन्न देशों से आए 3 हज़ार प्रतिनिधियों ने आर्कटिक के विकास, पर्यावरण संरक्षण और अंतरराष्ट्रीय सहयोग पर विचार विमर्श किया।

(श्याओ थांग)

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी