जाने-माने फिल्ममेकर कबीर खान और प्रसाद शेट्टी से ख़ास बातचीत

2019-04-23 14:02:00

फिल्ममेकर कबीर खान और प्रसाद शेट्टी सीआरआई संवाददाता को इन्टरव्यू देते हुए

पिछले कुछ समय से चीन में भारतीय फिल्मों की लोकप्रियता बढ़ रही है। एक के बाद एक भारतीय फिल्में चीन के सिनेमाघरों में चीनी दर्शकों को लुभा रही हैं। अभी हाल ही में, पेइचिंग इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2019 के मुख्य फोरम में से एक, चीन-भारत फिल्म सह-उत्पादन संवाद में भाग लेने के लिए चीन पहुंचे भारत के जाने-माने निर्देशक, स्क्रीनराइटर कबीर खान ने चीनी फिल्ममेकर के साथ इंडो-चाइना सह-निर्मित फिल्म बनाने पर करार किया और दोनों देशों के बीच फिल्म सहयोग पर विचारों का आदान-प्रदान किया।

फिल्म 'एक था टाइगर', 'फैंटम' और 'बजरंगी भाईजान' जैसी फिल्मों का निर्माण कर चुके कबीर खान ने चाइना रेडियो इंटरनेशनल (सीआरआई) को दिए एक ख़ास इंटरव्यू में कहा,“चीन-भारत फिल्म सह-उत्पादन संवाद का मुख्य उद्देश्य है चीन और भारत की फिल्म इंडस्ट्री आपस में सहयोग कर सके, एक दूसरे के साथ मिल सके, विचारों का विनिमय कर सके, और अंतिम रूप में मिलकर फिल्में बना सके।” उन्होंने कहा कि चीन और भारत की फिल्म इंडस्ट्री बहुत बड़ी है। भारत की फिल्म इंडस्ट्री 100 साल से भी ज्यादा पुरानी है, और हर साल सबसे ज्यादा फिल्में बनाती है।

चीन में सफल साबित हुई 'बजरंगी भाईजान' फिल्म के निर्देशक कबीर खान ने कहा कि चीन की फिल्म इंडस्ट्री पिछले कुछ सालों में बहुत तेजी से बढ़ रही है। चीन के पास 60 हजार स्क्रीन है, जबकि भारत में हिन्दी फिल्मों के लिए करीब 5 हजार स्क्रीन है। दोनों देशों की फिल्म इंडस्ट्री बहुत बड़ी है, उन्हें सहयोग करना चाहिए जिससे दोनों को ही लाभ मिलेगा।

फिल्ममेकर कबीर खान और प्रसाद शेट्टी

न्यूज़ व्यापार पर्यटन बाल-महिला स्पेशल विश्व का आईना चीनी भाषा सीखें वीडियो फोटो गैलरी